Wednesday , December 7 2022

केजीएमयू ने बनाया एटीएलएस प्रशिक्षकों के पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण का रिकॉर्ड

अमेरिकन कॉलेज ऑफ़ सर्जन्स (एसीएस) पर्यवेक्षकों की टीम ने की प्रशिक्षकों की सराहना

लखनऊ.किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के अंतर्गत केजीएमयू इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल्स ने एडवांस ट्रामा लाइफ सपोर्ट (एटीेएलएस) इंस्ट्रक्टर्स कोर्स के तीन सत्र लगातार आयोजित कर इतिहास रच दिया है. भारत में पहली बार एक के बाद एक तीन बैच के लोगों को यह कोर्स कराया गया है.

इंस्टिट्यूट के निदेशक डॉ. विनोद जैन ने बताया कि पहले बैच को 4 व 5 अगस्त को, दुसरे बैच को 6 व 7 को तथा तीसरे बैच को 7 व 8 अगस्त को एटीेएलएस इंस्ट्रक्टर्स कोर्स का प्रशिक्षण दिया गया. उन्होंने बताया कि इस उपलब्धि के लिए प्रो.एमसी मिश्र, एसीएस पर्यवेक्षकों ने टीम की सराहना की.

 

इंस्टीट्यूट के निदेशक डॉ. विनोद जैन ने बताया कि कुलपति प्रो. एम एल बी भट्ट के सहयोग से आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में पहले बैच को 4 व 5 अगस्त को, दूसरे बैच को 6 व 7 अगस्त को तथा तीसरे बैच को 7 व 8 अगस्त को एटीेएलएस इंस्ट्रक्टर्स कोर्स का प्रशिक्षण दिया गया. उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण देने वाली इस टीम में डॉ. समीर मिश्र, डॉ. संदीप तिवारी, डॉ.हेमलता, डॉ. दिव्या नारायण उपाध्याय और डॉ. क्षितिज श्रीवास्तव शामिल रहे.कोर्स की कोऑर्डिनेटर शालिनी गुप्ता थीं.

डॉ. जैन ने बताया कि प्रशिक्षण अवधि के दौरान उपस्थित एटीेएलएस के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो.एमसी मिश्र और अमेरिकन कॉलेज ऑफ़ सर्जन्स (एसीएस) पर्यवेक्षकों की टीम के कमिटी ऑफ़ ट्रामा अमेरिका की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. किम जोसेफ, रीजनल कोऑर्डिनेटर अलेक्जेंड्रा, प्रोग्राम मैनेजर केटी स्ट्रांग ने केजीएमयू की एटीेएलएस टीम की इस उपलब्धि के लिए सराहना की.

 

आपको बता दें कि केजीएमयू इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल्स की स्था्पना का मुख्य उद्देश्य जिस वाक्य में छिपा है वह है ‘दक्षता जीवन बचाती है’। यह संस्थान केजीएमयू के साइंटिफिक कन्वे न्शन सेंटर में बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × 3 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.