सीएचसी-पीएचसी पर डॉक्टरों की उपस्थिति बायो मैट्रिक से करने के निर्देश

सिद्धार्थनाथ सिंह

जिलाधिकारी करें आकस्मिक निरीक्षण

लखनऊ । प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा प्राथमिक केन्द्रों के आकस्मिक निरीक्षण के निर्देश सभी जिलाधिकारियों को दिये। उन्होंने अस्पतालों में डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ अन्य कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के भी आदेश दिये हैं।
श्री सिंह आज 23 मई को यहां जनपथ स्थित स्वास्थ्य भवन के सभागार में विभागीय कार्यों की समीक्षा बैठक कर रहे थे। उन्होंने मण्डलीय अपर निदेशकों को पुरुष एवं महिला डाक्टर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर नियमित उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए रोस्टर बनाने पर बल दिया। उन्होंने प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर चिकित्सकों की नियमित उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए बायो मैट्रिक करने की व्यवस्था को प्रभावी बनाने के निर्देश दिये।

ब्लड बैंकों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का कार्य शीघ्र पूरा करें

स्वास्थ्य मंत्री ने मस्तिष्क ज्वर से प्रभावित 38 जिलों में ब्लड बैंकों के सुचारु रूप से संचालन तत्काल कराने के निर्देश दिये। उन्होंने ब्लड बैंक सेन्टरों की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाने के कार्य को जल्द पूरा करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि इन सेन्टरों पर धन उगाही तथा लापरवाही मिलने पर जिम्मेदार अधिकारियों व कर्मचारियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में डिजिटलाइजेशन के कार्य को जल्द पूरा किये जाने के भी निर्देश दिये।

भ्रष्टाचार पर अंकुश के लिए मुख्य सतर्कता अधिकारी नियुक्त करें

श्री सिंह ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को मुख्य सतर्कता अधिकारी जल्द नियुक्त करने के निर्देश दिये। बैठक में अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अरूण कुमार सिन्हा, सचिव श्रीमती वी. हेकाली झिामोमी, श्री आलोक कुमार तथा महानिदेशक श्री पद्माकर सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया ।