Saturday , October 1 2022

मरीजों का रखें ध्‍यान, जानबूझकर कभी न पहुंचायें नुकसान

-लोहिया संस्‍थान में डॉक्‍टरी पढ़ने आये नये विद्यार्थियों को निदेशक ने दी सीख
-व्‍हाइट कोट सेरेमनी व चरक शपथ कार्यक्रम का किया गया आयोजन


सेहत टाइम्‍स
लखनऊ।
डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान की निदेशक प्रो सोनिया नित्यानंद ने कहा है कि छात्र जीवन में समय प्रबंधन एवं अपने ध्‍येय की प्राप्ति के लिए एकाग्रता बहुत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि डॉक्टरी पेशा मानवता का पेशा है अपने मरीजों का हमेशा ध्यान रखें और कभी भी किसी मरीज को जानबूझकर नुकसान न पहुंचाएं।

प्रो सोनिया नित्यानंद ने यह बात आज 21 फरवरी को संस्थान में नव प्रवेशित एमबीबीएस विद्यार्थियों के लिए आयोजित व्हाइट कोट सेरेमनी एवं चरक शपथ कार्यक्रम में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कही। प्रो सोनिया की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में उन्‍होंने विद्यार्थियों को शुभकामनाएं और बधाई देते हुए एमबीबीएस पाठ्यक्रम में होने वाले अपने रोमांचकारी अनुभवों को साझा किया। उन्होंने छात्रों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि आप यहां इसलिए हैं क्योंकि आप इस लायक हैं, उन्होंने कहा कि आप लोग स्वयं में विश्वास रखें। निदेशक ने विद्यार्थियों को व्‍हाइट कोट प्रदान किए।

संस्थान की डीन प्रो नुजहत हुसैन ने विद्यार्थियों को बधाई देते हुए सीखने के प्रति अपने जुनून को बरकरार रखने का आह्वान किया। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक एवं यूजी सेल के अध्यक्ष प्रो राजन भटनागर ने विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि इस पेशे में जीवन भर समर्पण की आवश्यकता होती है। उन्होंने कहा कि कड़ी मेहनत ही सफलता की कुंजी है।

सब डीन यूजी सेल डॉ नवबीर पसरीचा ने व्हाइट कोट सेरेमनी का महत्व समझाते हुए विद्यार्थियों को चरक शपथ दिलवाई। इस पूरे कार्यक्रम का संचालन डॉ इति स्थापक एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ अनामिका गहरवार द्वारा दिया गया। इस मौके पर एग्जीक्यूटिव रजिस्ट्रार प्रो ज्योत्सना अग्रवाल, अनेक वरिष्ठ संकाय सदस्य एवं एमबीबीएस के विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

10 + twenty =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.