रोग मुक्त जीने की हो चाहत , नियमित योग करने की डालो आदत’

विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर निकली शहीद स्मारक से रैली

लखनऊ। ‘हाथ धुलेंगे साबुन से तो रोग मिटेंगे जीवन से’, ‘रोग मुक्त जीने की हो चाहत’, ‘नियमित योग करने की डालो आदत’, ‘जीवन को स्वस्थ बनाओ ,जंक फूड को दूर भगाओ’। ये वे कुछ नारे थे जिन्हें लगाते हुए चल रहे बच्चे लोगों को स्वस्थ जीवन जीने का संदेश दे रहे थे।


आज शनिवार को विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर शहीद स्मारक से एक रैली का आयोजन मुख्य चिकित्सा अधिकारी लखनऊ की ओर से किया गया। इस रैली में हयात पैरामेडिकल इंस्टिट्यूट एफ.आई. इंस्टिट्यूट, सेंट मैरी कैरियर इंस्टिट्यूट तथा समर्पण इंस्टिट्यूट के लगभग 2000 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।

 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने रैली को झंडी दिखाकर रवाना किया ।रैली का समापन बेगम हजरत महल पार्क में हुआ। रैली में भाग लेने वाले छात्र छात्राएं नारे लगाते हुए चल रहे थे ।

रैली के उद्गम स्थल शहीद स्मारक पर रैली को संबोधित करते हुए अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा प्रभारी नॉन कम्युनिकेबल डिसीज डॉक्टर एस के रावत ने कहा कि हमें जनसामान्य में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता पैदा करनी है ,उन्होंने कहा कि यह समय विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़े तथा स्वच्छता पखवाड़े का भी है ,इन दोनों के प्रति सभी लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से अभियान भी चलाया जा रहा है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल ने रैली को झंडी दिखाने के अवसर पर अपने उद्बोधन में कहा कि यह अत्यंत प्रसन्नता की बात है कि इस बार का विश्व स्वास्थ्य दिवस विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा तथा स्वच्छता पखवाड़े के बीच में पड़ रहा है ,उन्होंने कहा कि इस वर्ष विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सभी के लिए सभी जगह हेल्थ कवरेज यह थीम दी है। उन्होंने सभी का आह्वान किया कि 1 वर्ष से 15 वर्ष तक का कोई भी बच्चा दिमागी बुखार के टीकाकरण से छूटना नहीं चाहिए।

 

रैली के उद्घाटन अवसर पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर डीके बाजपेई, डा.सईद अहमद, डा.आर बी सिंह, डा. आर.के.चौधरी, डा.अनूप श्रीवास्तव, सी.एम.ओ. के प्रवक्ता डा.एस.के.सक्सेना, जिला स्वास्थ्य एवं शिक्षा अधिकारी योगेश रघुवंशी, जिला मलेरिया अधिकारी डी एन शुक्ला भी उपस्थित थे।