Wednesday , October 5 2022

एक मुलाकात

मौत की चेतावनी भी आखिर रोक क्‍यों नहीं पा रही नशा करने से ?

तम्‍बाकू से पूरी दुनिया में 70 लाख और भारत में करीब 12 लाख लोग प्रति वर्ष अकाल मृत्‍यु के शिकार हो जाते हैं। सरकार ने अब तम्‍बाकू उत्‍पादों पर एक नयी चेतावनी ‘तम्‍बाकू सेवन यानी अकाल मृत्‍यु’ लिखना अनिवार्य किया है। प्रश्‍न यह उठता है कि तम्‍बाकू उत्‍पादों पर स्‍लोगन …

Read More »

कोविड के कारण होने वाली घबराहट, कोविड से भी बड़ी महामारी !   

-कोरोना से ग्रस्‍त मरीजों से दस गुना ज्‍यादा लोग इसकी दहशत के शिकार   -जीसीसीएचआर के डॉ गौरांग गुप्‍ता से ‘सेहत टाइम्‍स’ की खास बातचीत धर्मेन्‍द्र सक्‍सेना लखनऊ। पूरी दुनिया को हिला देने वाली बीमा‍री कोविड-19 ने न सिर्फ शरीर को बीमार किया बल्कि व्‍यक्ति की मन:स्थिति को भी बुरी …

Read More »

स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति जरूरत से ज्‍यादा सतर्कता बरतने वाले लोग हो रहे बीमार

– क्‍लीनिकल साइकोलॉजिस्‍ट सावनी की सलाह- मस्‍त होकर जिन्‍दगी जीयें, बोझ समझकर ढोयें नहीं धर्मेन्‍द्र सक्‍सेना लखनऊ। अपने स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति सतर्क रहना, जागरूक रहना अच्‍छी बात है, लेकिन सतर्कता को खौफ या डर नहीं बनने देना चाहिये, क्‍योंकि जब यह डर आपकी मन:स्थिति पर हावी हो जाता है तो …

Read More »

डायबिटीज में मेटफॉरमिन दवा खा रहे लोगों को न्‍यूरोपैथी का भी खतरा

-साल में कम से कम एक बार विटामिन बी 12 की जांच कराने की सलाह दी डॉ अनुज माहेश्‍वरी ने -डायबिटीज के इलाज के लिए मेटफॉरमिन खा रहे लोगों के लिए बड़ी खबर धर्मेन्‍द्र सक्‍सेना लखनऊ। मेटफॉरमिन दवा के सेवन से जहां शरीर में विटामिन बी 12 की कमी होती …

Read More »

मानसिक तनाव कम उम्र में भी दे रहा गठिया, जानिये क्‍या है इलाज

-रिसर्च में पाया गया है कि गठिया की मुख्‍य वजह यूरिक ऐसिड बढ़ना नहीं, बल्कि है मानसिक तनाव -कन्‍सल्‍टेंट फि‍जीशियन डॉ गौरांग गुप्‍त से ‘सेहत टाइम्‍स’ की विशेष वार्ता -पार्ट 2 धर्मेन्‍द्र सक्‍सेना लखनऊ। राजधानी लखनऊ स्थित गौरांग क्‍लीनिक एंड सेंटर फॉर होम्‍योपैथिक रिसर्च के कन्‍सल्‍टेंट फि‍जीशियन डॉ गौरांग गुप्‍ता …

Read More »

क्‍या आप जानते हैं कि एसिडिटी होने का मूल कारण पेट से नहीं, बल्कि आपकी सोच से है ?

–जीसीसीएचआर के कन्‍सल्‍टेंट डॉ गौरांग गुप्‍ता ने दीं साइकोसोमेटिक डिस्‍ऑर्डर पर महत्‍वपूर्ण जानकारियां धर्मेन्‍द्र सक्‍सेनालखनऊ। साइकोसोमेटिक डिस्‍ऑर्डर (psychosomatic disorders) यानी मनोदैहि‍क विकार वे विकार हैं जो हमारी सोच से उत्‍पन्‍न होते हैं, यानी अगर हमारी सोच में डर है, घबराहट है, किसी घटना से हम दुखी हैं, अचानक कोई आघात …

Read More »

छोटे बच्‍चे के हाथ में मोबाइल थमाने का मतलब… वर्चुअल ऑटिज्‍म

-क्‍लीनिकल साइकोलॉजिस्‍ट सावनी गुप्‍ता की महत्‍वपूर्ण सलाह सेहत टाइम्‍स लखनऊ। कहीं आप अनजाने में अपने बच्‍चे को वर्चुअल ऑटिज्‍म का शिकार तो नहीं बना रहे हैं ?  पिछले कुछ समय से बीमारी का एक नया टर्म आया है वर्चुअल ऑटिज्‍म, इस बीमारी का कारण छोटे बच्‍चों को मोबाइल, टैबलेट जैसे …

Read More »

भारत में मिले कोरोना के नये वैरिएंट XE को लेकर घबराने की जरूरत नहीं

-टीकाकरण के ब्रांड एम्‍बेसडर प्रो सूर्यकांत ने कहा कि मास्‍क कोरोना से ही नहीं बचाता बल्कि बचाता है दूसरी कई बीमारियों से धर्मेन्‍द्र सक्‍सेनालखनऊ। मुम्‍बई में पाये गये कोरोना के नये वैरिएंट XE को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है। इसकी वजह देश के ज्‍यादातर लोगों का हो चुका वैक्‍सीनेशन …

Read More »

मरीजों के मन की पीड़ा को समझकर इलाज करना चाहती थी, इसीलिए बनी मनोवैज्ञानिक

-क्‍लीनिकल साइकोलॉजिस्‍ट सावनी गुप्‍ता के सेंटर फॉर मेंटल हेल्‍थ ‘फेदर्स’ का उद्घाटन सेहत टाइम्‍सलखनऊ। बचपन से ही पापा को चिकित्सक के रूप में मैं देखती थी, जब 3-4 साल की थी तभी मुझे लगा कि मुझे बड़े होकर डॉक्टर बनना है और 9वीं-10वीं कक्षा तक तक आते-आते यह क्लियर हो …

Read More »

अगर आपका बच्‍चा तेज आवाज चलाकर टीवी देखता है, तो करायें यह जांच

-वर्ल्‍ड हियरिंग डे (3 मार्च) पर केजीएमयू के प्रोफेसर डॉ वीरेन्‍द्र वर्मा से ‘सेहत टाइम्‍स’ की विशेष वार्ता धर्मेन्‍द्र सक्‍सेना लखनऊ। क्‍या आपका बच्‍चा तेज आवाज चलाकर टीवी देखता है, क्‍या आपके बच्‍चे के मार्क्‍स आपकी अपेक्षा से कम आ रहे हैं। अगर ऐसा है तो इसको टालने के बजाय …

Read More »