सावधान ! कोल्ड ड्रिंक की जगह ‘जहर’ तो नहीं पिला रहे दुकानदार

 

 

 

छापे के दौरान पकड़ी गयी 80 हजार रुपये की एक्सपायरी कोल्ड ड्रिंक्स

 

लखनऊ. अगर आपको अपनी सेहत का थोडा भी ख़याल है तो आपको बहुत सावधान रहने की जरूरत है. इसकी वजह है कि कमाई की अंधी दौड़ में लगे व्यापारी जनता की सेहत से खुलेआम खिलवाड़ कर रहे हैं. यह खिलवाड़ सरकार की नाक के नीचे यानी राजधानी लखनऊ में ही हो रहा है तो बाकी जगह का क्या हाल होगा यह संदेह के घेरे में तो आ ही जाता है. आज लखनऊ में 80 हजार रुपये की 3000 लीटर कोल्ड ड्रिंक ऐसी पकड़ी गयी जो कालातीत यानी जिनकी एक्सपायरी हो गयी थी. यह सारी कोल्ड ड्रिंक नष्ट करवा दी गयी.

 

 

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार बाजारों में बिकने वाले खाने-पीने के सामान  खाद्य पदार्थों में मिलावट के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही के तहत आज मण्डलीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी,  नंदलाल के नेतृत्व में सबसे पहले परिवर्तन चौक पर रायल स्टैग मॉडल शॉप,  सांझा चूल्हा,  हॉट चिल्ली रेस्टोरेन्ट एवं चाणक्य लड्डू के खाद्य प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया। बताया जाता है कि इस निरीक्षण में जिन स्थानों पर गंदगी पायी गयी,  उनके प्रतिष्ठान स्वामियों को चेतावनी देकर  उन्हें 24 घंटे में प्रतिष्ठानों को अनुकूल करने के निर्देश दिये गये। उन्हें स्पष्ट कहा गया कि ऐसा  न करने पर उन्हें अपने प्रतिष्ठान बंद करने पड़ेंगे।

 

 

बताया गया है कि एक अन्य प्रतिष्ठान वृन्दावन बाटलर्स की  चारबाग स्थित एजेन्सी पर भी छापा मारा गया यहाँ 129 पेटी में लगभग 3000 लीटर कालातीत कोल्ड ड्रिंक्स को नष्ट कराया गया। नष्ट कराये गये शीतल पेय का मूल्य लगभग 80 हजार रूपये था। मेनेजर को शीतल पेय के उचित भण्डारण के निर्देश दिए गये। साथ ही   एक्सपायर्ड/क्षतिग्रस्त शीतल पेय को अलग रखने तथा स्थिति में सुधार करने के निर्देश दिये गये। यह भी आदेश दिए गए कि केवल लाइसेंस एवं  पंजीकरण धारक को ही बिक्री करें।  आज की  कार्यवाही अभिहित अधिकारी,  डॉ. टीआर रावत एवं सहायक आयुक्त डॉ. शशि पाण्डेय की उपस्थिति में हुई।