Thursday , December 2 2021

यूपी में भी गंगा नदी के किनारे बसे जिलों में हाईअलर्ट

-उत्‍तराखंड में नंदादेवी ग्‍लेशियर के एक भाग टूटने से आयी बाढ़ के मद्देनजर मुख्‍यमंत्री ने उठाये आवश्‍यक कदम

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि आज उत्तराखण्ड में नंदादेवी ग्लेशियर के एक भाग के टूटकर ऋषिगंगा नदी पर बने पावर प्रोजेक्ट डैम पर गिरने की सूचना प्राप्त हुई है। इससे अलकनंदा नदी में जल प्रवाह अचानक बढ़ गया है। बांध टूटने से उत्पन्न परिस्थितियों के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश में गंगा नदी के किनारे स्थित जनपदों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में गंगा नदी के किनारे स्थित जनपदों के सभी जिलाधिकारियों/पुलिस अधीक्षकों को लगातार निगरानी के निर्देश दिये गये हैं। परिस्थितियों से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एस0डी0आर0एफ0 को भी अलर्ट कर दिया गया है। प्रदेश में गंगा नदी के किनारे स्थित जनपदों में जल स्तर की निरन्तर निगरानी की जा रही है। ज्ञात हो अलकनंदा नदी उत्‍तर प्रदेश में गंगा नदी में मिलती है इसलिए जल स्तर बढ़ने की दशा में आवश्यकता पड़ने पर गंगा नदी के किनारे बसे लोगों को वहां से अन्यत्र भेजा जाएगा। राहत और बचाव के लिए निर्देश दिये जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि संकट की इस घड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार उत्तराखण्ड सरकार के साथ खड़ी है। उत्तराखण्ड सरकार को आवश्यकता पड़ने पर सभी आवश्यक मदद दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील है कि वे किसी भी अफवाह पर भरोसा न करें और न ही अफवाह फैलायें। स्वयं सतर्कता बरतते हुए लोग नदी के किनारे न जाएं। किसी विषम परिस्थिति के उत्पन्न होने पर जिला प्रशासन के साथ सहयोग करें। उत्तर प्रदेश सरकार सभी आवश्यक कदम उठा रही है।