Saturday , February 24 2024

कैंसर संस्थान के ओटी ब्लॉक में लगी आग, बड़ा हादसा होते-होते बचा

-चल रहे थे ऑपरेशन, पोस्ट ऑप वार्ड में भी थे मरीज, सुरक्षित रूप से किया गया शिफ्ट

-शॉट सर्किट बताया जा रहा आग लगने का कारण, जांच के लिए गठित की गयी समिति

सेहत टाइम्स

लखनऊ। कल्याण सिंह सुपरस्पेशियलिटी कैंसर संस्थान (केएसएसएसआई) के ओटी ब्लॉक में आज 4 दिसम्बर को आग लगने से हड़कम्प मच गया, जिस समय घटना घटी उस समय तीन ऑपरेशन चल रहे थे, गनीमत यह रही कि चार मंजिला इस बिल्डिंग के दूसरे तल पर आग लगी जो कि बंद रहता है, वरना बड़ा हादसा हो सकता था। हादसे में किसी भी तरह के बड़े नुकसान की खबर नहीं है। संस्थान की फायर सेफ्टी की NOC पर प्रश्नचिन्ह लग रहा है।

जानकारी मेें आया है कि ओटी ब्लॉक में प्रथम तल पर ही ऑपरेशन थियेटर और 16 बिस्तरों वाला पोस्ट ऑप वार्ड आईसीयू है, जहां ऑपरेशन के पश्चात मरीजों को रखा जाता है यहां के दूसरे, तीसरे और चौथे तल बंद पड़े हैं। घटना के बारे में बताया जाता है कि यहां तीन ओटी में ऑपरेशन चल रहे थे तभी बिजली चली गयी, तो इमरजेंसी पावर में ऑपरेशन जारी रखे गये, आम तौर पर जल्दी वापस आने वाली लाइट काफी देर तक वापस नहीं आयी, इस बीच धुआं निकलता देखा गया तो अफरा-तफरी मच गयी। शुरुआत में यह समझ नहीं आया कि आग किस मंजिल पर लगी है।

आग लगने की बात पता चलते ही ओटी में वेंटीलेंटर पर चले रहे मरीजों के ऑपरेशनों को स्थगित करने का निर्णय लिया गया साथ ही पोस्ट ऑप वार्ड के मरीजों को भी शिफ्ट करने का निर्णय लेते हुए जल्दी सर्जरी निपटाते हुए सभी मरीजों को सुरक्षित रूप से शिफ्ट किया गया। जानकारी में यह भी आ रहा है कि ओटी कॉम्प्लेक्स में मेन्टेनेेंस की पुख्ता व्यवस्था नहीं है, आम तौर पर इतनी महत्वपूर्ण जगहों के लिए पृथक मेंटेनेंस स्टाफ रखा जाता है लेकिन यहां ऐसा नहीं है। ऐसे में हादसा होने की स्थिति में मरीजों के साथ ही चिकित्सक से लेकर दूसरे कार्मिकों की जान को भी खतरा हो सकता है।

इस बारे में संस्थान के निदेशक की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि मध्यान्ह 12:00 बजे धुआं देखे जाने की सूचना कर्मचारियों के माध्यम से प्राप्त हुई फायर ब्रिगेड को तत्काल सूचना देते हुए तत्काल घटनास्थल पर पहुंचकर ओटी ब्लॉक में उपस्थित मरीज, तीमादारों, संस्थान कार्मिकों को एहतियात के तौर पर ओटी बिल्डिंग से आईपीडी बिल्डिंग में शिफ्ट कराया गया। फायर ब्रिगेड की चार गाड़ियां तत्काल मौके पर पहुंचकर आग बुझाने के कार्य में जुट गईं, आग लगने के कारणों के संबंध में प्रारंभिक तौर पर यह ज्ञात हुआ है कि ओटी भवन के तृतीय तल पर स्थित यूपीएस रूम में शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगी जिस पर काबू पा लिया गया आग लगने के कारण चिकित्सा सेवा में किसी तरह का व्यवधान उत्पन्न नहीं हुआ है। आग लगने के कारण का पता लगाने के लिए जांच टीम गठित कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.