Saturday , June 15 2024

सौर ऊर्जा के प्रयोग से बेहतर बनाया जा सकता है पर्यावरण को

-लोहिया संस्थान में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर बच्चों सहित सभी को दिलायी पेड़ लगाने की शपथ

सेहत टाइम्स

लखनऊ। विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर संस्थान के कम्युनिटी मेडिसिन विभाग एवम सीड फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में संस्थान के रूरल हेल्थ ट्रेनिंग सेंटर, जुग्गौर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

संस्थान के निदेशक प्रो ०(डा०) सी०एम० सिंह ने अपने संबोधन में पर्यावरण की सुरक्षा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए बच्चों से वार्तालाप किया। उन्होंने कहा कि “विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर आओ प्रण करें कि हम मिलकर पेड़ लगाएंगे।”
विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर यह शपथ बतौर मुख्य अतिथि संस्थान के निदेशक प्रो ०(डा०) सी०एम० सिंह द्वारा बच्चों एवम बड़ों को दिलवाई गई।

कार्यक्रम के मुख्य वक्ता खुर्शीद फारूक, परियोजना अधिकारी, यूपीनेडा ने पर्यावरण को सौर ऊर्जा के प्रयोग से कैसे बेहतर बनाया जा सकता है के बारे में समझाया। उन्होंने यह भी बताया की कैसे सौर ऊर्जा पैनल जरूरत के मुताबिक घर में, खेत में लगाया जा सकता है।

कार्यक्रम में संस्था के एमबीबीएस छात्रों द्वारा नुक्कड़ नाटक प्रस्तुति दी गई। जिसमें इस वर्ष के पर्यावरण विषय “हमारी धरती हमारा भविष्य” का संदेश दिया गया। कार्यक्रम में “बेस्ट आउट ऑफ वेस्ट विषय” पर प्रतियोगिता आयोजन किया गया , जिसमें गांव के बच्चों द्वारा प्रतिभाग किया गया। सेंटर फॉर एनवायरनमेंट एंड एनर्जी डेवलपमेंट (सीड) के प्रतिनिधियों द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सौर ऊर्जा के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई।

प्रतियोगिता के विजेताओं को कार्यक्रम के संस्थान के द्वारा पुरस्कृत किया गया। साथ ही आशा बहनों को भी उनके द्वारा किए जा रहे कार्य एवम कार्यक्रम आयोजन के लिए प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए। कार्यक्रम के दौरान संस्थान के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक प्रो. ए.के.सिंह, कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो० एस.डी.कांडपाल, आर०एच०टी०सी इंचार्ज डा०विनीता शुक्ला, डा०जमील अहमद, मेडिकल ऑफिसर,पी०एच०सी,जुग्गौर, आकांक्षा सिंह,रिसर्च एसोसिएट (एनवायरनमेंट), अभिषेक सिंह, सीनियर प्रोग्राम ऑफिसर (आउटरीच), शुभम ठाकुर, प्रबंधक, नवीकरणीय ऊर्जा एवम संस्थान के मीडिया सेल से निमिषा सोनकर उपस्थित रहे। अंत में संस्थान के एकेडमिक ब्लॉक परिसर में वृक्षारोपण किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.