Monday , June 27 2022

केजीएमयू में कोविड-19 पर विजय पा चुके विजेताओं ने दान किया प्‍लाज्‍मा

-दान में मिले इस प्‍लाज्‍मा से होगा कोरोना के गंभीर मरीजों का उपचार

केजीएमयू में प्‍लाज्‍मा दान करते डॉ तौसीफ खान के साथ हैं कुलपति प्रो एमएलबी भट्ट व ट्रांसफ्यूज़न मेडिसिन विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ तूलिका चन्द्रा।

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। किंग जॉर्ज  चिकित्सा विश्वविद्यालय में दो कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार उपरांत पूर्ण स्वस्थ होने पर आज 25 अप्रैल को इनके द्वारा अपना प्लाज्मा दान किया गया। उनके इस प्लाज़मा से कोरोना संक्रमित गंभीर रोगियों के उपचार में सुविधा होगी। दान किए गए प्लाज्‍मा से प्राप्त एंटी बॉडीज इस बीमारी से लड़ने में सहायक होगी।

इस अवसर पर चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 एम0एल0बी0 भट्ट द्वारा उनका आभार प्रकट करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण से जारी युद्ध में दानकर्ता लखनऊ निवासी केजीएमयू के रेजीडेंट डॉ तौसिफ खान और लखीमपुर निवासी उमाशंकर मिश्रा अब पूर्णरूप से स्वस्थ हैं तथा कोरोना से जारी लड़ाई में केजीएमयू के लिए भविष्य में एक प्रेरणास्रोत्र के रूप में पहचाने जायेंगे। आपको बता दें कि डॉ तौसीफ खान यहां केजीएमयू में भर्ती कोरोना मरीज के इलाज के दौरान संक्रमित हो गये थे।

देखें वीडियो 25 अप्रैल, 2020 को केजीएमयू के लिए ऐतिहासिक क्षण, कोरोना से ठीक हुए डॉ तौसीफ ने अपना प्‍लाज्‍मा दान किया, ताकि किसी दूसरे संक्रमित का हो सके उपचार

प्लाज़माफेरेसीस टीम में मुख्य रूप से चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 एमएलबी भट्ट, ट्रांसफ्यूज़न मेडिसिन विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ तूलिका चन्द्रा, हिमेटो ऑन्‍कोलॉजी विभाग के डॉ एसपी वर्मा, माइक्रोबायोलॉजी विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ अमिता जैन, डॉ सुरुचि, रेस्पेरेटरी मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ सूर्यकांत, मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो0 वीरेन्‍द्र आतम, डॉ के0के0 सावलानी तथा पैथोलॉजी विभाग के डॉ वाहिद शामिल रहे।