Wednesday , October 5 2022

कम वजन वाले बच्‍चों को माताएं हर दो घंटे के अंतर पर अपना दूध पिलायें

-नवजात शिशु देखभाल सप्‍ताह के अंतर्गत प्री मेच्‍योर बच्‍चों की देखभाल पर अवंतीबाई चिकित्‍सालय में कार्यक्रम आयोजित

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। वीरांगना अवन्ती बाई महिला चिकित्सालय में 15 से 21 नवंबर तक मनाये जा रहे नवजात शिशु देखभाल सप्ताह के अन्तर्गत प्री मैच्योर बच्चों की देखभाल के बारे में बताया गयाl ऐसे बच्‍चों की परवरिश के लिए विशेषज्ञों द्वारा कई प्रकार के सुझाव दिये गये।

अस्‍पताल की प्रमुख चिकित्सा अधीक्षिका डॉ सीमा श्रीवास्तव ने बताया कि बच्चों को जन्म से छह माह तक सिर्फ मां का दूध पिलाना चाहिए उन्‍होंने कहा कि जो बच्चे कम दिन के पैदा होते हैं, उनकी विशेष देखभाल करनी चाहिए, उन्‍होंने महिलाओ से कोविड टीकाकरण कराने के लिए भी कहा गयाl

हॉस्पिटल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका डॉ रश्मि मिश्रा ने कहा कि बच्चों को हर 3 घंटे पर मां अपना दूध पिलांये और जो बच्चे कम वजन के होते हैं उन्हें हर 2 घण्टे पर मां अपना दूध पिलायें।  अस्‍पताल के बालरोग विशेषज्ञ डॉ सलमान खान ने महिलाओं को बताया कि जो बच्चे कम दिन के पैदा होते है उन्हें कंगारू मदर केयर तकनीक से गर्माहट देनी चाहिए, और बच्चों को छह माह तक केवल मां का दूध देना चाहिए और छह माह के बाद 2 साल तक ऊपरी आहार के साथ मां अपना दूध पिलायेंl

मरीजों को सिखाने के दृष्टिकोण से मरीजों से बच्चो की देखभाल से सम्बंधित सवाल किये गए जिस पर महिलाओ में से सुमन ने बच्चो में बुखार होने की पहचान और मजबी ने बच्चों को लगने वाले टीके के बारे में सही उत्‍तर दिया। प्रमुख अधीक्षिका द्वारा उन्हें पुरस्कार दिया गया। इस मौके पर बाल रोग विशेषज्ञ डॉ मोहित कुमार, सिस्टर इंचार्ज किरन लता सोनकर,  सिस्टर मंजू शर्मा,  हेल्प डेस्क मैनेजर मोहम्मद आसिफ,  स्टाफ नर्स आभा शर्मा,  इंटर्न चिकित्सक और स्टाफ नर्स ट्रेनी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

thirteen + 18 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.