सीएमओ की मनमानी पहुंची प्रताड़ना तक, स्वास्थ्य सेवाएं ठप

अमेठी के सीएमओ से परेशान महकमे ने की हड़ताल, डीएम के आश्वासन के बाद एक सप्ताह के लिए आंदोलन स्थगित

लखनऊ। गलत तरीके अपनाकर कर्मचारियों को प्रताड़ित करने के विरुद्ध फार्मेसिस्ट एसोसिएशन, पी एम एस,अन्य स्वास्थ्य संघ अमेठी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर एम श्रीवास्तव के विरुद्ध सोमवार को जनपद की सभी स्वास्थ्य सेवाएं ठप हो गईं । इसके बाद जिलाधिकारी द्वारा cmo के विरुद्ध कार्यवाही के आश्वासन पर एक हफ्ते के लिये आंदोलन स्थगित किया गया है।

राजकीय फार्मेसिस्ट महासंघ के अध्यक्ष सुनील यादव ने बताया कि अमेठी में मुख्य चिकित्सा अधिकारी के रवैये से परेशान कर्मचारी अधिकारी आंदोलन पर चले गए ।

 

उन्होंने बताया कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी नियमों को ताख पर रखकर स्थानांतरण कर रहे हैं । बिना निरीक्षण किये अखबारों में निरीक्षण की खबरें देते है, फिर कर्मचारियों को उसके नाम पर प्रताड़ित करते हैं, कर्मचारियों से धन उगाही की भी शिकायतें मिल रही हैं । कुछ अस्पतालों में अभी तक बिजली का कनेक्शन नहीं है, फिर भी कर्मचारियों का हजारों रुपए बिजली के नाम पर काटा जा रहा है । लोगों को समय से वेतन नहीं मिल रहा ।

चिकित्सकों एवं अन्य कर्मचारियों के भी स्थानांतरण कर फिर रोकने के नाम पर धन वसूली करते हैं, महिला कर्मचारियों ने भी शोषण का आरोप लगाया। इन मामलों को लेकर फार्मेसिस्ट संघ के साथ अन्य कर्मचारी भी आ गए हैं।

आज आंदोलन में डिप्लोमा फार्मेसिस्ट एसो के प्रांतीय अध्यक्ष संदीप बडोला, महामंत्री के के सचान, रायबरेली के मंत्री राजेश सिंह भी शामिल हुए ।

सुनील यादव ने बताया कि जिलाधिकारी द्वारा सीएमओ के विरुद्ध कार्रवाई का आश्वासन देने के बाद फिलहाल आंदोलन स्थगित कर दिया गया है। एक सप्ताह में अगर कार्रवाई नहीं की गयी तो फिर से हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया जायेगा।