Saturday , June 15 2024

मतदान में पिछड़ा लखनऊ, पिछली बार से कम पड़े वोट, बाराबंकी रहा अव्वल

-पांचवें चरण में यू पी के 14 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों और एक विधानसभा क्षेत्र में मतदान सम्पन्न

आशीष कुमार
डॉ. अजय सिंह

सेहत टाइम्स

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में उत्तर प्रदेश के 14 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में हुए मतदान में कुल 57.98 प्रतिशत मतदान हुआ है इसके अतिरिक्त एक विधानसभा सीट लखनऊ पूर्व के लिए भी आज 20 मई को मतदान हुआ। लखनऊ इस बार मतदान में पिछड़ गया और वह पिछली बार का आंकड़ा भी नहीं छू सका, पिछली बार जहां 56 प्रतिशत वोट पड़े थे वहीं इस बार यहां 52.23 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डालें। हालांकि इससे सटे हुए बाराबंकी (अनुसूचित जाति) सीट पर प्रदेश भर में सर्वाधिक 67.10 प्रतिशत वोट पड़े और मोहनलालगंज (अनुसूचित जाति) सीट पर 62.72 प्रतिशत मतदान के साथ तीसरे स्थान पर रहा। जबकि दूसरे स्थान पर झांसी रहा यहां 63.70% वोट पड़े।

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा ने सोमवार को मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के प्रेस कान्फ्रेंस हॉल में आयोजित प्रेसवार्ता में बताया कि रायबरेली में 58.04 प्रतिशत और अमेठी सीट पर 54.40 प्रतिशत चुनाव वोट पड़े। जालौन (अनुसूचित जाति) सीट पर 56.15, हमीरपुर में 60.56, बांदा में 59.64, फतेहपुर में 57.05, कौशांबी (अनुसूचित जाति) सीट पर 52.79, फैजाबाद में 59.10, कैसरगंज में 55.68 प्रतिशत तथा गोंडा में 51.64% वोट डाले गए। इसके अतिरिक्त विधानसभा उप निर्वाचन क्षेत्र 173-लखनऊ पूर्व में 52.45 प्रतिशत मतदान हुआ। लखनऊ पूर्व की यह सीट विधायक आशुतोष टंडन की मृत्यु होने के कारण रिक्त हुई थी।

डॉ पीके गुप्ता, डॉ रमेश भारती, डॉ संदीप तिवारी, डॉ संजीव, डॉ सूर्य कांत
डॉ गीता खन्ना-डॉ अनिल खन्ना , डॉ हैदर अब्बास, डॉ कुमुद श्रीवास्तव, डॉ एमएन सिद्दीकी, डॉ आर के दीक्षित
डॉ एएस त्रिपाठी, डॉ जीपी सिंह, डॉ जमाल मसूद, डॉ निरुपमा पांडेय, डॉ आरके गुप्ता
डॉ अतुल गर्ग डॉ मधुबन तिवारी

जो निकले, उनका उत्साह देखने लायक था, चिकित्सकों ने भी किया बढ़-चढ़ कर मतदान

लखनऊ में वोट प्रतिशत कम जरूर रहा लेकिन जिन मतदाताओं ने अपना फर्ज निभाया, उनका उत्साह जबरदस्त था, चिलचिलाती धूप की परवाह न करते हुए फर्स्ट टाइम वोटर्स से लेकर बुजुर्ग और दिव्यांग भी अपनी जिम्मेदारी निभाने में पीछे नहीं रहे। यही नहीं मतदान के प्रति अपना कर्तव्य निभाने के लिए दूसरे शहरों में नौकरी कर रहे लोग सिर्फ मतदान के लिए लखनऊ आये और जिम्मेदारी निभाकर वापस अपने कार्यस्थलों के लिए चले गए।

एम्स भोपाल के निदेशक डॉ. अजय सिंह परिवार सहित भोपाल से लखनऊ वोट डालने आये थे। उन्होंने लोगों से एक अपील करते हुए कहा कि मैंने अपना राष्ट्रीय कर्तव्य निभाया। विकसित भारत के लिए वोट डालने परिवार सहित भोपाल से आया हूं। आज शाम को वापस जाऊंगा। मैं वोट डालने अगर भोपाल से आ सकता हूँ तो आप घर से निकलकर तो वोट डाल ही सकते हैं। इसी प्रकार इन्दिरा नगर में डेबल पब्लिक स्कूल केंद्र पर एक मतदाता ने बताया कि वे दिल्ली से वोट डालने आये हैं। इसी बूथ पर बचपन से व्हील चेयर पर चलने वाले आशीष कुमार त्रिवेदी, जिनकी उम्र 50 वर्ष से ऊपर है, को लेकर परिजन आये थे। परिजनों ने बताया कि पार्षद से लेकर सांसद चुनने के लिए हुए चुनाव में आशीष ने हमेशा वोट किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.