Tuesday , November 30 2021

आईएमए ने मरीजों को दिया उपचार व डॉक्‍टरों को पढ़ाया सीएमई का पाठ

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य दिवस पर आईएमए लखनऊ ने किया आयोजन

लखनऊ। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) लखनऊ ने विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य दिवस पर रविवार को एक चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में 120 मरीजों का परीक्षण किया गया। इसके अलावा एक सतत चिकित्‍सा शिक्षा (सीएमई) का भी आयोजन किया गया।

 

शिविर में आईएमए यूपी की महिला विंग की अध्‍यक्ष डॉ रुखसाना खान और आईएमए लखनऊ के कार्यकारिणी सदस्‍य डॉ प्रांजल अग्रवाल ने फ्री कैम्‍प में आये मरीजों का परीक्षण एवं जांच कर उन्‍हें परामर्श दिया। शिविर में आये लोगों को दवायें भी दी गयीं तथा उनका ब्‍लड प्रेशर, हीमोग्‍लोबिन की जांच की गयी।

इस मौके पर एक सीएमई का आयोजन भी किया गया। इस सीएमई के मुख्‍य अतिथि आईएमए यूपी के अध्‍यक्ष डॉ एएम खान थे। इसमें आईएमए लखनऊ के ऐडिटर व मनोचिकित्‍सक डॉ अलीम सिद्दीकी ने बताया कि किसी भी व्‍यक्ति में मानसिक रोग के लक्षण किस तरह पहचाने जा सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि यदि किसी व्‍यक्ति में भ्रम की स्थिति हो, सोने में दिक्‍कत हो, खानपान के व्‍यवहार में बदलाव होने लगे, उदासी महसूस हो, तबीयत गिरी-गिरी सी लगती रहे, अत्‍यधिक डर या चिंता सताती रहे, अत्‍यधिक गुस्‍सा, शराब या ड्रग्‍स की लत जैसे लक्षण लम्‍बे समय तक बने रहें तो उसको मानसिक रोग विशेषज्ञ के पास ले जाकर दिखाना चाहये।  हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ राकेश सिंह ने कहा कि समग्र चिकित्‍सा उपचार की आवश्‍यकता है। उन्‍होंने कहा कि उद्देश्‍य तो यही है कि मरीज को लाभ होना चाहिये।

 

आईएमए में चलने वाली ओपीडी के इंचार्ज डॉ प्रांजल अग्रवाल ने आईएमए का सम्‍पूर्ण कल्‍याणकारी एजेंडा बताते हुए कहा कि सामाजिक दायित्‍व को निभाते हुए आज का शिविर आयोजित किया गया। उन्‍होंने कहा कि सिर्फ आज लगने वाला फ्री कैम्‍प ही नहीं, रिवर बैंक कॉलोनी स्थित आईएमए भवन में रविवार छोड़कर सोमवार से शनिवार तक रोजाना अपरान्‍ह 3 बजे से सायं 5 बजे तक फ्री ओपीडी का आयोजन किया जाता है। इस ओपीडी में गरीब मरीजों को फ्री परामर्श और दवायें दी जाती हैं। अध्‍यक्ष डॉ जीपी सिंह ने अपने उद्बोधन में शिविर आयोजन और सीएमई के लिए आईएमए पदाधिकारियों के साथ ही आये हुए सभी लोगों का आभार जताया। सचिव डॉ जेडी रावत में अंत में सबका धन्‍यवाद ज्ञापित किया।