Friday , August 6 2021

12 साल तक के सभी बच्‍चों की पूर्ण चिकित्‍सा निःशुल्क चाहते हैं डॉ वेदांती

स्माइल मशाल ज्योति जनजागरूकता कार्यक्रम में इसके लिए कोशिश करने का संकल्‍प लिया पूर्व सांसद ने
स्‍माइल ट्रेनहेल्‍थ सिटी के तत्‍वावधान में आयोजित कार्यक्रम में लाभान्वित बच्‍चों को किया गया सम्‍मानित
 

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। पूर्व सांसद व राम मंदिर न्यास के महंत डॉ० राम विलास वेदांती ने सकल्प लिया है कि वह प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री से स्वयं मिलकर निवेदन करेंगे कि देश एवं प्रदेश स्तर पर जन्म से लेकर 12 वर्ष तक की आयु के सभी वर्गों के बच्चों को पूर्णतयाः निःशुल्क चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराये जाने की दिशा में कदम उठाया जाये।

यहां गोमती नगर स्थित पर्यटन भवन के ऑडीटोरियम में स्माइल ट्रेन की तरफ से स्माइल मशाल ज्योति जनजागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  डॉ वेदांती इसी कार्यक्रम में बतौर मुख्‍य अतिथि शामिल हुए थे। कार्यक्रम के विशिष्‍ट अतिथि के रूप में उत्‍तर प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक शामिल हुए।

अपने सम्बोधन में महंत डॉ० राम विलास वेदांती ने स्माइल ट्रेन संस्था द्वारा लम्बे समय से किये जा रहे निस्वार्थ व निःशुल्क जनसेवा कार्य हेतु आभार एवं प्रशंसा व्यक्त करते हुए कहा कि वरिष्ठ प्लास्टिक सर्जन डा0 वैभव खन्ना के नेतृत्व में स्माइल ट्रेन दिन प्रतिदिन नये-नये कीर्तिमान स्थापित कर रहा है और इनके द्वारा समाज के लिए प्रदान किये जा रहे निःशुल्क चिकित्सा सेवा के वह स्वयं साक्षी रहे हैं।

मंत्री ने कहा, चिकित्‍सा हो या सा‍माजिक कार्य डॉ वैभव हर जगह आगे

प्रदेश के कानून एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि चाहे गरीबों का मुफ्त इलाज करना हो, चाहे सामाजिक कार्य हो, डॉ वैभव खन्ना समाज के विभिन्न कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते रहते हैं। समाज में ढेर सारी व्यवस्थाएं व अव्यवस्थाएं हैं उनके साथ नज़दीक से रहकर डा0 खन्ना हमेशा लगे रहते हैं जिसके लिए मैं उन्हें अपनी शुभकामनाएं देते हुए आभार प्रकट करता हूं कि समाज में जो पाड़ित वर्ग है उसके समाधान व उत्थान लिए वे हमेशा व उनकी संस्था व चिकित्सा परिवार का दल लगा रहता है।

खूबसूरत उदाहरणों से अपनी विचारों की छाप छोड़ी डॉ राकेश कपूर ने

इस मौके पर संजय गांधी पीजीआई के निदेशक प्रो राकेश कपूर ने चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र में लोगों के जागरूक होने की आवश्‍यकता जतायी। उन्‍होंने कहा कि जागरूकता का अर्थ सिर्फ भाषण देना नहीं बल्कि धरातल पर कार्य करना है। उन्‍होंने जनसंख्‍या नियंत्रण, साफ पानी जैसे मुद्दों पर गंभीरता के साथ विचार करने पर जोर दिया। उन्‍होंने कहा कि कोशिश सार्थक रूप से करनी होगी। उदाहरण देते हुए उन्‍होंने कहा‍ कि अरबी घोड़े से अगर सभी कार्य कराये जायेंगे तो अरबी घोड़ा भी एक दिन टट्टू बन जायेगा। उन्‍होंने अपनी बात को एक और उदाहरण देते हुए कहा कि यात्रियों की भीड़ को कम करने के लिए ट्रेन में डिब्‍बों की संख्‍या बढ़ाने से काम नहीं चलेगा बल्कि नयी ट्रेन बेहतर समाधान है। कार्यक्रम में धन्‍यवाद भाषण स्‍माइल ट्रेन की क्षेत्रीय निदेशक रेनू मेहता ने देते हुए कहा कि स्‍माइल ट्रेन की मशाल से पूरा हिन्‍दुस्‍तान जुड रहा है। उन्‍होंने कहा कि अब हमारा लक्ष्‍य कटे होठ व कटे तालू वाले बच्‍चों की एक साल से कम उम्र में ही सर्जरी करना है।

यह भी पढ़ेें : चिकित्‍सक और मरीज के बीच व्‍यवहार के गिरते स्‍तर पर सीएम चिंतित

इससे पूर्व यहां स्माइल मशाल ज्योति के आर्कषक रंगोली स्वरूप से सुसज्जित प्रांगण में जन्मजात कटे होंठ व कटे तालू की बीमारी की समय रहते पहचान व उपचार सम्बन्धित ज्ञानवर्धक नुक्कड़ नाटक के अलावा सुन्दर चित्रकला प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में जन्मजात कटे होंठ व कटे तालू से ग्रसित स्माइल ट्रेन द्वारा उपचारित बच्चों व उनके अभिभावकों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

स्माइल ट्रेन प्रोजेक्ट के विभिन्न जनपदों से आये चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मी, नुक्कड़ नाटक के सभी कलाकार, चित्रकला प्रतियोगिता के समस्त प्रतिभागी के अलावा अवसर पर मौजूद तमाम उपचारित बच्चों को पुरस्कृत व सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का कुशल संचालन वरिष्‍ठ प्‍लास्टिक सर्जन डॉ आदर्श कुमार ने किया। इस मौके पर स्माइल ट्रेन की उपाध्यक्ष व एशिया भूभाग की क्षेत्रीय प्रबंधक ममता कैरोल के साथ-साथ तमाम डॉक्टर्स और अन्य लोग उपस्थित रहे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com