Wednesday , October 5 2022

क्या है डॉ त्रेहान की फिटनेस का राज?

डॉ नरेश त्रेहान

27 सालों से करते आ रहे हैं योगासन-प्राणायाम

लखनऊ। क्या आप जानते हैं कि देश के हृदय रोग विशेषज्ञों में सर्वाधिक पॉपुलर मेदान्ता हॉस्पिटल के डॉ नरेश त्रेहान की फिटनेस का राज क्या है? उनकी फिटनेस का राज है योगासन-प्राणायाम। पिछले 27 वर्षों से वे योग-प्राणायाम करते हैं। उनका कहना है कि अगर हृदय रोगों से दूर रहना है तो खान-पान पर लगाम और टहलने के साथ ही 15 से 20 मिनट प्राणायाम जरूर करें, यह तनाव को मुक्त करने का बहुत ही अच्छा उपाय है।
यहां पब्लिक हेल्थ इन उत्तर प्रदेश चैलेंज एंड सोल्यूशन्स कार्यशाला में भाग लेने आये डॉ त्रेहान ने पत्रकारों द्वारा पूछे गये सवालों के जवाब में यह बात कही।
उन्होंने कहा कि पहले के समय में और आजकल के समय में फर्क यह है कि पहले आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी नहीं होती थी, खाने के लिए अनाज पर्याप्त मात्रा में देश में नहीं था लेकिन अब स्थितियां बदल गयी हैं तो व्यक्ति अनाप-शनाप सभी तरह की हद से ज्यादा चिकनाई वाली चीजें खा रहा है, इसके साथ ही आर्थिक स्थिति के चलते पहले ज्यादातर लोगों के पास साइकिल थी, तो वे उसी से चलते थे या फिर पैदल चलते थे, मेहनत वाले कार्य करते थे, अब ज्यादातर व्यक्ति गाडिय़ों में चलते हैं, पैदल चलने की आदत समाप्त हो गयी है नतीजा यह है कोलेस्ट्रॉल बढ़ रहा है, पेट निकल रहा है।
इसके अतिरिक्त एक और कारण है और बड़ा कारण है तनाव। आजकल लगभग सभी लोगों में किसी न किसी चीज को लेकर तनाव व्याप्त है। इन सभी कारणों के चलते आज स्थिति यह है कि 20-20 साल की आयु वाले नौजवान हार्ट अटैक से ग्रस्त हो रहे हैं, बाईपास करा रहे हैं।
इससे बचने के लिए आवश्यक है कि खाने पर कंट्रोल रखें, सप्ताह में कम से कम पांच दिन तेज चाल से 4 किलोमीटर चलें और 15 से 20 मिनट प्राणायाम करें। उन्होंने कहा कि अनुलोम-विलोम से तनाव दूर होता है जिससे यह हृदयघात से बचाने में बहुत कारगर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × 2 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.