लखनऊ में कोविड प्रबंधन के लिए डॉ जीएस बाजपेयी के नेतृत्‍व में टीम गठित

-सहयोग के लिए तीन संयुक्‍त निदेशकों की भी तैनाती

-सीएमओ, एसीएमओ सहित सभी बाजपेयी को करेंगे रिपोर्ट

-तत्‍काल प्रभाव से 31 मई तक के लिए की गयी है टीम की तैनाती

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बेकाबू होते कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए सरकार ने तत्काल प्रभाव से अपर निदेशक डॉ जी एस बाजपेई को लखनऊ जनपद के कोविड प्रबंधन का प्रभार सौंपा है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ), अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (एसीएमओ) एवं कोविड प्रबंधन में लगे अन्य सभी अधिकारी डॉ बाजपेई को रिपोर्ट करेंगे। डॉ बाजपेई की सहायता के लिए 3 अन्य संयुक्त निदेशक स्तर के अधिकारियों को भी तात्कालिक प्रभाव से कोविड प्रबंधन के लिए संबद्ध किया गया है इनमें डॉ वाई के पाठक, डॉ विकास सिंघल तथा डॉ सुनील पांडेय शामिल हैं।

इस संबंध में अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद द्वारा रविवार को जारी आदेश में कहा गया है कि लखनऊ जनपद में वर्तमान समय में संक्रमण की गति तीव्र है और कोविड-19 के प्रकरण दिन प्रतिदिन बड़ी संख्या में आ रहे हैं। इसके दृष्टिगत यहां वरिष्ठ अधिकारियों की एक टीम की तैनाती आवश्यक हो गई है इसलिए यह व्यवस्था 31 मई तक के लिए की गई है।

ज्ञात हो रविवार 18 अप्रैल को जारी 24 घंटे की रिपोर्ट के अनुसार लखनऊ में जहां 5551 नये मामले सामने आये हैं, वहीं इस अवधि में 22 लोगों की मौत हुई है। लखनऊ में इस समय सक्रिय मरीजों की संख्‍या 47,700 पहुंच गयी है। उत्‍तर प्रदेश में इन 24 घंटों में 30596 नये संक्रमित तथा 129 लोगों की मौत हुई है, प्रदेश में इस समय सक्रिय मरीजों की संख्‍या 1,91,457 है।