सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में कैम्प लगाकर सलाह देंगे विशेषज्ञ डॉक्टर

प्रमुख सचिव ने जारी किये आवश्यक दिशा निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के ऐसे दूरस्थ क्षेत्र जहां पर्याप्त स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध नहीं है, वहां के निवासियों के लिए स्थानीय स्तर पर रोगों के निदान एवं उपचार हेतु पं. दीन दयाल उपाध्याय स्वास्थ्य सेतु कैम्प/मेले के आयोजन का निर्णय लिया है। इस कैम्प/मेले में रोगियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। साथ ही मरीजों को नि:शुल्क दवाएं भी मौके पर ही दी जाएंगी।

आंख, ईएनटी, महिला रोग, बाल रोग व हड्डी के चिकित्सक मिलेंगे

इस सम्बंध में प्रमुख सचिव चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण प्रशान्त त्रिवेदी ने आवश्यक दिशा निर्देश भी जारी कर दिए है। जारी निर्देश के अनुसार कैम्प/मेले का आयोजन प्रदेश के सभी जनपदों में प्रत्येक सप्ताह में एक बार किया जाएगा। खासतौर से कैम्प/मेले का आयोजन का उद्देश्य सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को चिकित्सकीय सुविधा मुहैया कराना है। कैम्प/मेले में रोगियों को जिन विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं उपलब्ध कराई जाएगी, उनमें नेत्र विशेषज्ञ, नाक, कान, गला रोग विशेषज्ञ, महिला रोग विशेषज्ञ, बाल रोग विशेषज्ञ तथा हड्डी रोग विशेषज्ञ शामिल होंगे।
कैम्प/मेले में एनजीओ तथा स्थानीय व्यक्तियों का सहयोग भी प्राप्त किया जाएगा। साथ ही कैम्प/मेले के आयोजन की सूचना नियमित रूप से महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को उपलब्ध करानी होगी। समस्त जिलाधिकारी, मण्डलीय अपर निदेशक चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा समस्त मुख्य चिकित्सा अधिकारी को मेले के आयोजन हेतु प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है।