Saturday , January 29 2022

कोरोना वायरस को हराने के लिए जनता कर्फ्यू की तैयारियां पूरी

लखनऊ में आईएमए ने तैयार की डॉक्‍टरों की टीम, समस्‍या होने पर करें फोन

लखनऊ। कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई का अहम मुकाम आ चुका है, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात्रि 9 बजे तक जनता द्वारा जनता के लिए जनता कर्फ्यू का आह्वान किया है। इसी दौरान शाम 5 बजे पांच मिनट के लिए लोगों से अपने-अपने घरों के दरवाजों, खिड़कियों, बालकनी जैसी जगहों पर इकट्ठा होकर ताली, थाली, घंटी बजाकर इस चुनौती पूर्ण समय में दिन-रात कार्य कर रहे चिकित्‍सा जगत के लोगों के साथ ही अन्‍य आवश्‍यक सेवाओं से जुड़े लोगों को धन्‍यवाद कहने के का आह्वान भी प्रधानमंत्री द्वारा किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो  देश के इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी प्रधानमंत्री की अपील पर जनता कर्फ्यू के लिए तैयार है। दरअसल जनता भी अब जागरूक हो चुकी है, ज्‍यादातर संख्‍या में लोगों को अहसास है कि कोरोना वायरस से उत्‍पन्‍न स्थिति भयावह न हो जाये, इसके लिए सभी को मिलकर प्रयास करना होगा। नोएडा में सेक्‍टर 74 स्थित अपार्टमेंन्‍ट्स के लोगों ने तो आज ताली, थाली आदि बजाकर इसका रिहर्सल भी किया।

हालांकि प्रधानमंत्री का यह अभी एक दिन जनता कर्फ्यू का आह्वान तो जनता को रास्‍ता दिखाना है, लेकिन आवश्यक यह है कि फि‍लहाल कोरोना का प्रकोप समाप्‍त होने तक लोगों को अनावश्‍यक रूप से बाहर निकलने से बचना चाहिये। लोग स्‍वत: अपने ऊपर कर्फ्यू मानकर अन्‍य दिनों में भी चलें। आपको बता दें कि बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है।

प्रधानमंत्री की अपील पर देशभर में जनता कर्फ्यू की तैयारी है। लोगों से अपील की गई है कि सुबह 7 बजे से रात के 9 बजे तक घर से बाहर ना निकलें, ऐसा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए किया गया है. देश के इतिहास में ये पहला मौका है जब लोग खुद से खुद पर कर्फ्यू लगाएंगे और उसका पालन करेंगे।

आपको बता दें कि जनता कर्फ्यू के दिन देश में ट्रेन नहीं चलेंगी। सिर्फ वहीं ट्रेनें चलेंगी जो एक दिन पहले शुरू हुई थीं और अपने गंतव्य तक नहीं पहुंची हैं। देश में रोजाना 13 हजार रेलगाड़ियां पटरियों पर दौड़ती हैं इनमें से 80 फ़ीसदी गाड़ियां 22 मार्च को बंद रहेंगी। राज्‍यों में भी बंदी की पूरी तैयारी बतायी गयी है।

आईएमए के डॉक्‍टर रहेंगे फोन पर उपलब्‍ध, पूछ सकते हैं कोई भी सवाल

जनता कर्फ्यू एवं कोरोना संक्रमण के संदर्भ में आम लोगों के मन मे उत्पन्न घबराहट और आशंकाओं को दूर करने के लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आई एम ए) लखनऊ से जुड़े डॉक्टर्स ने एक टीम तैयार की है जिसमे 6 डॉक्टर्स ने अपना मोबाइल नंबर दिया है जो कि सबेरे 8 बजे से रात के 8 बजे तक सक्रिय रहेगा। इस दौरान आम लोगों को अपने घरों में रहने की सलाह दी जाएगी, साथ ही बताया जायेगा कि कोरोना संक्रमण के सामुदायिक प्रसार को रोकने के लिए यह एक महत्वपूर्ण कदम है।

हेल्प लाइन जारी करने का उद्देश्य आम लोगों में कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूकता और भ्रांतियों को दूर करना है साथ ही उनके सवालों के जबाब एवं मेडिकल सलाह भी दिया जाएगा। पैनल में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन लखनऊ सचिव डॉ जे डी रावत(9415003709), डॉ अनंत शील चौधरी (9044425380), डॉ शाश्‍वत सक्सेना(9935979501), डॉ नईम अहमद शेख(9616633000), डॉ प्रांजल अग्रवाल(9415023972) एवं डॉ पी के गुप्ता (9415541789) शामिल हैं।