Tuesday , October 19 2021

कोरोना के नाश के लिए पूरे विश्‍व में गायत्री परिवार के साधक 26 मई को करेंगे यज्ञ

-प्रात: 9 से 11 बजे तक होगा यज्ञ, पिछले साल भी हुआ था आयोजित

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। अखिल विश्व गायत्री परिवार, गायत्री तीर्थ शांतिकुंज के प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या, डॉ. चिन्मय पण्ड्या, शैलबाला पण्ड्या, शैफाली पण्ड्या के आह्वान पर 26 मई को प्रातः 9 से 11 बजे तक पूरे विश्व में गायत्री साधक एक साथ गायत्री यज्ञ करेंगे। वैश्विक महामारी कोरोना से रक्षा, विश्व में सुख शांति समृद्धि के लिए यह एक आध्यात्मिक प्रयोग है।

यह जानकारी देते हुए गायत्री परिवार के मुख्य मीडिया प्रभारी उमानंद शर्मा ने आज यहां बताया कि पिछले वर्ष भी 31 मई को यह प्रयोग पूरे विश्व में हुआ था। उन्‍होंने बताया कि पूरे विश्व में एक साथ एक ही समय पर करोड़ों साधक गायत्री यज्ञ करेंगें। इसका उद्देश्य वातावरण परिशोधन, प्राणि‍ मात्र की रक्षा, कोरोना वायरस का नाश, करोड़ों कोविड से पीड़ित व्यक्तियों को स्वास्थ्य लाभ,  डॉक्टर, नर्स, पुलिस कर्मचारी, प्रिंट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधि, सफाई कर्मचारी एवं प्रशासन अधिकारी जो कोविड से सीधे जुडे़ हुए हैं उनकी सुरक्षा, भारत भूमि से सम्पूर्ण विश्व को कोरोना से मुक्ति, पूरे विश्व में कोविड से मृत्यु हुए लाखों व्यक्तियों की आत्मउन्नति के लिए यह विशेष आध्यात्मिक प्रयोग है।

श्री शर्मा ने बताया पूरे विश्व में गायत्री साधक अपने घरों में यज्ञ तो करेंगे साथ-साथ अपने मित्र, बन्धुओं, परिचितों को भी प्रेरित करेगें। जब महामारी का प्रकोप बढ़ जाता है तब मनुष्य के वश में नहीं रहता है एवं सृष्टि के तीनों लोकों के स्वामी से प्रार्थना करनी पड़ती है, आज पूरे विश्व में कुछ ऐसा ही दौर चल रहा है। इस प्रार्थना में मानव जाति, पीड़ा-पतन से बचें, श्रेष्ठ कार्य करें, सन्मार्ग में चलें, त्याग परमार्थ के जीवन को अपनायें, भोग-विलास, अनीति-अधर्म, पाप से बचें, ऐसा आत्मबल जनमानस को मिले, इसलिए ऐसा आध्यात्मिक हवन किया जाता है। देश की आजादी के समय महर्षि अरविन्द ने भी राष्ट्र के लिए कुण्डलि‍नी जागरण का आध्यात्मिक प्रयोग कराया था।

श्री शर्मा ने बताया गायत्री शक्तिपीठ, प्रज्ञा मण्डल, महिला मण्डल, युवा मण्डल, प्रबुद्ध वर्ग, सभी संस्थानों के ट्रस्ट के सदस्य, गायत्री परिवार के वरिष्ठ सक्रि‍य सदस्य अपने-अपने क्षेत्रों में दूरभाष संयोजन करायेंगे एवं जिन परिजनों को यज्ञ करना नहीं आता है वे मोबाइल पंडित के माध्यम से करेंगे। (लिंक- https://youtu.be/r-aC-8tYfA0 )

इस क्रम में लखनऊ राजधानी एवं उपजोन, सीतापुर, बाराबंकी, हरदोई, रायबरेली का संयोजन अरविन्द निगम, सुरेन्द्र सिंह इन जिलों के संयोजक के साथ करेंगे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com