Tuesday , June 18 2024

राष्ट्रीय सेवा योजना व्यक्तित्व विकास का सर्वश्रेष्ठ माध्यम

-महर्षि यूनिवर्सिटी ऑफ़ इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ने आयोजित किये राष्‍ट्रीय सेवा योजना के विशेष शिविर

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। राष्ट्रीय सेवा योजना, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय, भारत सरकार के तत्वावधान में महर्षि यूनिवर्सिटी ऑफ़ इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, लखनऊ में राष्ट्रीय सेवा योजना की दोनों इकाइयों का बीती 13 मार्च से 19 मार्च तक चल रहे राष्ट्रीय सेवा योजना के विशेष शिविर का 19 मार्च को अल्लूनगर डिगुरिया ग्राम में सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ भव्य समापन हुआ।

शिविर के समापन की  मुख्य अतिथि दीपा श्रीवास्तव, योगाचार्य ने अपने मुख्य अतिथीय उद्बोधन में कहा कि “राष्ट्रीय सेवा योजना व्यक्तित्व विकास का सर्वश्रेष्ठ माध्यम है”। शुभारम्भ में अंकित श्रीवास्तव, कार्यक्रम अधिकारी ने स्वागत भाषण दिया, तत्पश्चात डॉ. सपन अस्थाना, कार्यक्रम अधिकारी एवं अधिष्ठाता (शैक्षणिक ने दीपा श्रीवास्तव के समक्ष सात दिवसीय विशेष शिविर की विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की।  डॉ. सपन अस्थाना ने अपनी शिविर रिपोर्ट में बताया कि शिविर के प्रथम दिवस स्वयंसेवकों ने अल्लूनगर ग्राम के लोगो से जनसंपर्क कर, ग्राम के प्रमुख चुनौतियों एवं अवसर के विषय में जानकारी हासिल की।

शिविर के दूसरे दिन स्वयंसेवको ने ग्रामवासियों को “बेटी बचाओ एवं बेटी पढ़ाओ” पर जनजागरूकता रैली निकालकर, जागरूक किया। शिविर के तीसरे दिन स्वयंसेवको ने  पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का सन्देश दिया।  शिविर के चतुर्थ दिन स्वयंसेवको ने समाजसेविका डॉ. रूबी राज सिन्हा के सहयोग से महिलाओं एवं बालिकाओं को सैनेटरी नैपकीन वितरित कर, उसके सही ढंग से उपयोग करने के विषय में जानकारी एवं उससे जुड़े विभिन्न मिथक के बारे में जागरूक किया।

शिविर के पंचम दिवस स्वयंसेवकों ने अल्लूनगर डिगुरिया ग्राम के प्राथमिक विद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थियों को शिक्षा से जुडी अच्छी आदतों के विषय में बताया, जिससे वे अच्छी शिक्षा अनवरत प्राप्त कर आगे बढ़ सकें। शिविर के छठे दिन राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों ने ग्रामीणों को “जल है तो कल है” जल संरक्षण पर जागरूक किया एवं जल बचाव के विभिन्न उपायों को ग्रामीणों को बताया।  संपूर्ण शिविर के बौद्धिक सत्र में राष्ट्र निर्माण में राष्ट्रीय सेवा योजना की भूमिका विषय पर संगोष्ठी,  एन.एस.एस. क्विज, राष्ट्रीय सेवा योजना के विभिन्न राष्ट्रीय स्तर के शिविर के विषय में जानकारी, राष्ट्रीय सेवा योजना किस प्रकार से व्यक्तित्व विकास में सहायक है आदि विभिन्न विषयों पर जानकारी प्रदान की गयी, साथ – साथ भारतीय पुलिस सेवा की वरिष्ठ अधिकारी रुचिता चौधरी, पुलिस अधीक्षक, महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन उत्तर प्रदेश पुलिस, उत्तर प्रदेश ने स्वयंसेवकों द्वारा आयोजित विभिन्न सामाजिक मुद्दों पर आधारित प्रदर्शनी का भी अवलोकन कर स्वयंसेवकों को इस प्रकार के विभिन्न उत्कृष्ट सामाजिक कार्यों  के लिए बधाई दी।

शिविर के सातवें दिन विविध सांस्कृतिक एवं रंगारंग कार्यक्रम के साथ स्वयंसेवकों ने ग्रामीणों का आभार व्यक्त करते हुए शिविर का भव्य समापन किया। शिविर के सफल आयोजन पर विश्ववि‍द्यालय के कुलपति, प्रो. भानू प्रताप सिंह, कुलसचिव, प्रो. अखण्ड प्रताप सिंह, वित्त अधिकारी, वरुण श्रीवास्तव ने स्वयंसेवकों को सामाजिक कार्य के लिए बधाई प्रेषित की। डॉ. अशोक कुमार श्रोती, क्षेत्रीय निदेशक, राष्ट्रीय सेवा योजना, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय, भारत सरकार, प्रो. रुपेश कुमार, प्रोग्राम को-ऑर्डिनेटर, राष्ट्रीय सेवा योजना, लखनऊ विश्वविद्यालय, डॉ. मनोरमा सिंह, सीनियर रीजनल डायरेक्टर, इंदिरा गाँधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, लखनऊ  एवं  डॉ. कीर्ति विक्रम सिंह, असिस्टेंट रीजनल डायरेक्टर, इंदिरा गाँधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, लखनऊ ने सभी स्वयंसेवकों को बधाई प्रेषित की।

राष्ट्रीय सेवा योजना के विशेष शिविर को सफल बनाने में डॉ. धीरज यादव, डॉ. मोनिका सिंह, आशीष अवस्थी, अवनीश कुमार सिंह, ए. पी. सेठ, अभिषेक कुमार सिंह, वैशाली कुमारी सिंह एवं ग्राम अल्लूनगर डिगुरिया के पूर्व ब्लॉक प्रमुख चिनहट, राम लखन यादव, जोगी यादव, महावीर यादव सहित समस्त ग्रामवासियों ने अपना सहयोग दिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.