Friday , December 3 2021

एमबीबीएस की टॉपर कृतिका रह चुकी है हाईस्‍कूल की टॉपर भी

केजीएमयू के 14वें दीक्षांत समारोह की तैयारियां पूरी, फाइनल रिहर्सल  

 

लखनऊ 29 अक्‍टूबर। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍व विद्यालय के दीक्षांत समारोह की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं, कल 30 अक्‍टूबर को होने वाले समारोह का आज रिहर्सल किया गया। इस बार कृतिका गुप्‍ता ने एमबीबीएस में टॉप किया है, टॉपर कृतिका हाईस्‍कूल की भी टॉपर रही हैं, और इंटरमीडिएट की परीक्षा में उन्‍हें 91 प्रतिशत अंक हासिल हुए थे। कृतिका को प्रतिष्ठित हीवेट मेडल 14वें दीक्षांत समारोह में 700 मेडिकल छात्र-छात्राओं को एमबीबीएस, बीडीएस, पीएचडी सहित अन्य उपाधियां दी जाएंगी। पिछले वर्ष की भांति भी इस वर्ष भी मेडल पाने वाले स्टूडेंट्स में से लगभग 63 प्रतिशत मेडल छात्राओं को मिले हैं।

 

इस वर्ष 2013 एमबीबीएस की छात्रा कृतिका गुप्ता को प्रतिष्ठित हीवेट मेडल से नवाजा जाएगा। कृतिका ने एमबीबीएस की फाइनल प्रोफेशनल की परीक्षा में सबसे अधिक अंक हासिल किए हैं। उन्होंने गोरखपुर में 2010 में हाईस्कूल परीक्षा में टॉप किया था एव साल 2012 में इंटरमीडिएट की परीक्षा में 91 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। उन्होंने एमबीबीएस की परीक्षा 94 प्रतिशत अंकों से पास की है।

 

डॉ संदीप तिवारी ‘कुलाधिपति’ और डॉ प्रदीप टंडन ‘मुख्‍य अतिथि’ बने

 

14वें दीक्षांत समारोह की तैयारियों को लेकर आज अटल बिहारी वाजपेयी साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर में पूर्वाभ्यास रिहर्सल का आयोजन किया गया। इस अवसर पर प्रतीकात्मक कुलाधिपति एवं प्रतीकात्मक मुख्य अतिथि के आते ही होते ही लोगों ने अपना स्थान ग्रहण किया। कुलपति प्रोफेसर एमएलबी भट्ट द्वारा उनका स्वागत किया गया। इस अवसर पर ट्रॉमा सर्जरी के विभागाध्यक्ष डॉ संदीप तिवारी कुलाधिपति प्रतीकात्मक एवं उत्तर प्रदेश के राज्यपाल की और प्रोस्थोडेंटिक्स के विभागाध्यक्ष डॉ प्रदीप टंडन ने मुख्य अतिथि (प्रतीकात्मक) डॉ एमएस वालियाथन की भूमिका निभाई।

 

 

दीक्षांत समारोह का शुभारम्भ उत्तर प्रदेश के राज्यपाल एवं कुलाधिपति संदीप तिवारी (प्रतीकात्मक) की स्वीकृति मिलने के साथ ही किया गया। दीक्षांत समारोह की शुरूआत वंदेमातरम् से और इसका समापन राष्ट्रगान से किया गया। पूर्वाभ्यास के दौरान सभी विभागों के विभागाध्यक्ष उपस्थित रहे। इस अवसर पर आर्मीबैंड ने अपनी धुनों से वहां मौजूद सभी अतिथियों को मंत्रमुग्ध कर दिया। दीक्षांत समारोह में सबसे आगे रजिस्ट्रार, विभागाध्यक्ष, उनके पीछे प्रोफेसर, असोसिएट प्रोफेसर, फिर असिस्टेंट प्रोफेसर, लेक्चरर, अकेडमिक काउंसिल सदस्य, कार्यपरिषद के सदस्य रहे। इसके बाद डीन, कुलपति, कुलाधिपति और अंत में मुख्य अतिथि होते हैं। कार्यक्रम के बाद यह क्रम उलटा हो जाता है और सबसे आगे मुख्य अतिथि होते हैं।

 

यह होंगे मुख्य अतिथि

समारोह के मुख्य अतिथि पद्मविभूषण डॉ एमएस वालियाथन होंगें। डॉ वालियाथन प्रसिद्ध कार्डियक थौरेसिक वैसकुलर सर्जन हैं और मौजूदा समय में वह लाइफ स्टाइल पर काम कर रहे हैं।

 

प्रो शिव कुमार सरीन एवं प्रो0 बलराम भार्गव को मिलेगी मानद उपाधि

इस वर्ष दो विशेषज्ञ प्रो शिव कुमार सरीन एवं प्रो बलराम भार्गव को मानद उपाधि डीएससी प्रदान की जाएगी। प्रो सरीन वर्तमान में ि‍लवर एवं बिलेयरी साइंसेस, नई दिल्ली के निदेशक हैं तथा प्रो भार्गव आईसीएमआर, नई दिल्ली के महानिदेशक हैं।

 

चांसलर मेडल से नवाजे जाएंगे अरमीन अली

इस वर्ष का चांसलर मेडल बनारस निवासी अरमीन अली को प्रदान किया जाएगा। उन्होंने एमबीबीएस के सभी प्रोफेशनल वर्ष में शानदार प्रदर्शन किया है। चांसलर मेडल एमबीबीएस में सबसे अधिक अंक हासिल करने वाले विद्यार्थी को प्रदान किया जाता है।