Friday , January 28 2022

मौजूदा परिस्थितियों में इन शिक्षकों को भुखमरी के कगार पर पहुंचने से बचाये सरकार

-तीन माह की फीस न लिये जाने से विद्यालय प्रबंधक नहीं दे पा रहे शिक्षकों को वेतन
डॉ महेन्‍द्र नाथ राय

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश माध्‍यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशीय मंत्री व प्रवक्‍ता,  एमएलसी लखनऊ खण्‍ड निर्वाचन क्षेत्र के उम्‍मीदवार डॉ महेन्‍द्र नाथ राय ने सरकार से अपील की है कि मौजूदा महामारी के दौर में वित्त विहीन शिक्षकों व उनके परिवार के जीवन यापन के दृष्टिकोण से   राहत के लिए अलग कोष की व्‍यवस्था की जानी चाहिये।

सरकार इस कोष से वित्‍त विहीन शिक्षकों की मदद करे, क्योंकि छात्रों के द्वारा 3 माह की फीस न प्राप्त होने के कारण विद्यालय के प्रबन्धको की आर्थिक दशा बहुत ही खराब हो रही है,  इसी कारण वे शिक्षकों को वेतन नही दे पा रहे हैं। ऐसी स्थिति में सरकार को इस फीस की क्षतिपूर्ति की व्‍यवस्‍था कर शिक्षकों के जीवन यापन के लिए प्रत्‍येक शिक्षक के खाते में 15 हजार रुपये की व्‍यवस्‍था अविलम्‍ब करते हुए सीधे कोषागार से शिक्षकों को भुगतान करना चाहिये। उन्‍होंने कहा कि यदि वित्‍तविहीन शिक्षकों को वेतन न मिल पाया तो वे भुखमरी के कगार पर पहुंच जायेंगे।