Wednesday , November 30 2022

अगर आप करते हैं शौच के लिए कमोड का प्रयोग तो ध्‍यान दें…

अपने पैरों के नीचे ऐसी चीज रख लें जिससे आपके पेट पर पड़े दबाव

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। अगर आप शौच के लिए कमोड का इस्‍तेमाल करते हैं तो आपको चाहिये कि इसके प्रयोग के समय पैरों के नीचे थोड़ा ऊंचा स्‍टूल टाइप की चीज जरूर रख ले, ऐसा करने से जांघ और कमर के बीच फोल्‍ड बन जायेगा और आपके पेट पर दबाव बनायेगा जो आपको ठीक तरह से शौच होने में सहायक सिद्ध होगा जिससे आप कब्‍ज का शिकार होने से बचे रहेंगे। पाइल्‍स रोग के लिए बेतरतीब खानपान, आरामदायक जीवन शैली के साथ ही शौच के लिए कमोड का इस्‍तेमाल करना भी एक कारण है।

यह जानकारी आज किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय के सर्जरी विभाग के प्रोफेसर डॉ अरशद अ‍हमद ने विभाग में आयोजित पत्रकार वार्ता में देते हुए बताया कि दरअसल कुदरती रूप से बैठकर शौच करने का नियम बना है क्‍योंकि इस अवस्‍था में पेट पर दबाव रहता है जो कि जरूरी है। लेकिन आजकल घुटनों में समस्‍या होने के कारण अधिकतर घरों के टॉयलेट में कमोड का इस्‍तेमाल बढ़ गया है, ऐसे में मेरी सलाह है कि जिन्‍हें घुटने की किसी प्रकार की दिक्‍कत नहीं है, वे लोग शौच बैठकर ही करें, लेकिन अगर घुटने की दिक्‍कत की वजह से कमोड का इस्‍तेमाल करना ही पड़े तो कम से कम अपने पैरों के नीचे कोई ऐसी चीज रख लें जिससे आपकी जांघों से पेट पर दबाव पड़े इससे शौच ठीक तरीके से हो जायेगी और पेट साफ हो जायेगा।

डॉ अरशद ने बताया कि दरअसल पाइल्‍स की समस्‍या के जो मुख्‍य कारण हैं उनमें शारीरिक श्रम का अभाव वाली जीवन शैली, खानपान है, जो कि पेट साफ रखने में बाधक होता है। उन्‍होंने कहा कि अपने भोजन में रेशेदार चीजों का प्रयोग अवश्‍य करें, फलों का जूस नहीं बल्कि पूरे फल खायें, उदाहरण के लिए अगर आपने मुसम्‍मी का जूस लिया तो रस तो मिल गया लेकिन उसका गूदा यानी फाइवर नहीं मिला, जो कि जरूरी है, इसी प्रकार बिना चोकर निकला आटा, हरी सब्जियां, मोटा अनाज यानी जो रेशेदार चीजें हों, उनका सेवन करना चाहिये।

उन्‍होंने बताया कि इसी प्रकार बहुत से लोगों की आदत होती है कि टॉयलेट में भी वे लोग न्‍यूजपेपर, मोबाइल जैसी चीजों का इस्‍तेमाल करते हैं, इससे होता यह है कि उन्‍हें समय का खयाल नहीं रहता है और ज्‍यादा देर तक बैठे रहते हैं इससे भी पाइल्‍स होने की संभावना बढ़ जाती है।