Saturday , December 10 2022

लॉकडाउन के दौरान पुराने मरीजों का हाल फोन पर, दवा घर पर

-निर्वाण मानसिक एवं नशा रोग चिकित्सा हॉस्पिटल ने दी सुविधा 

लखनऊ। कल्याणपुर, रिंग रोड, लखनऊ स्थित निर्वाण मानसिक एवं नशा रोग चिकित्सा हॉस्पिटल ने देशव्यापी लॉकडाउन में मानसिक एवं नशे संबंधी समस्याओं से पीड़ित मरीज जिनका निर्वाण में इलाज चल रहा है, और वे लॉकडाउन के चलते दवा लेने आने में असमर्थ हैं, को उनके इलाज छूट जाने से बचाने के लिए, निर्वाण हॉस्पिटल के स्टाफ द्वारा लखनऊ शहर में बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के दवा मरीजों के घर तक पहुँचाई जा रही है।

निर्वाण हॉस्पिटल के निदेशक डॉ प्रांजल अग्रवाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि लॉकडाउन की वजह से जो मरीज अपनी दवा लेने अस्पताल नहीं आ पा रहे हैं, उनके रिलैप्स होने का डर रहता है। रिलैप्स हो जाने के बाद, मानसिक बीमारियीं को फिर से संभालना थोड़ा मुश्किल हो जाता है और इसीलिए अस्पताल ने यह कदम उठाया है, और फ़ोन पर टेली-कंसल्टेशन अस्पताल के मनोचिकित्सक डॉ दीप्तांशु अग्रवाल द्वारा दिया जाता है, और दवाइयां पूरी सुरक्षा के साथ मरीज के घर तक भिजवाई जा रहीं हैं।

उन्होंने बताया की अभी यह सेवा केवल लखनऊ शहर तक ही सीमित है, पर एक बार कोरियर सेवा बहाल होते ही, यह सेवा लखनऊ के बाहर रह रहे मरीजों के लिए भी आरम्भ करने की संभावना है। डॉ प्रांजल अग्रवाल ने बताया की उनकी टीम जो दवाइयों की होम डिलीवरी करने जाती है, वो धूप में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी और राह चलते मजदूरों इत्यादि को पानी की बोतलें इत्यादि भी नि:शुल्क वितरित कर रही है।

डॉ प्रांजल अग्रवाल ने यह भी बताया की निर्वाण अस्पताल द्वारा कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान आम लोगों में इसके होने की आशंका से होने वाली मानसिक समस्या जैसे की एंग्जायटी, डिप्रेशन हेतु हेल्पलाइन 8960211222 भी जारी किया है। इस नंबर पर लखनऊ शहर वासी सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक फ़ोन करके, नि:शुल्क परामर्श प्राप्त कर सकते हैं। आवश्यकता पड़ने पर उनको काउंसलिंग या दवाइयां उपलब्ध कराई जाएंगी।