Tuesday , November 30 2021

बढ़ते कोरोना संक्रमण पर दवा व्‍यापारी गंभीर, उठाये कई कदम

-लखनऊ केमिस्‍ट एसोसिएशन की कार्यकारिणी की बैठक में कई मामलों पर चर्चा

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। लखनऊ केमिस्ट एसोसिएशन की कार्यकारिणी समिति की बैठक में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप पर चिंता जताई गई साथ ही यह निर्णय लिया गया कि कोई भी व्यापारी बिना मास्क लगाए दवाओं का क्रय-विक्रय नहीं करेगा, साथ ही होली के चलते बाजार में बढ़ती हुई भीड़ देखते हुए लगातार संक्रमण से बचने के लिए स्प्रे कराया जाएगा।

बैठक के बारे में जानकारी देते हुए प्रवक्ता मयंक रस्तोगी व विकास रस्‍तोगी ने बताया कि आज हुई इस बैठक में अध्यक्ष गिरिराज रस्तोगी ने कहा कि‍ सरकार द्वारा बतायी गयी मुख्य तीनों बातें 2 गज की दूरी, मास्‍क तथा समय-समय पर हाथों की सफाई पर सभी व्यापारी विशेष ध्यान दें। उन्होंने सभी पात्र व्यापारियों से वैक्सीनेशन कराने की भी अपील की।

बैठक में महामंत्री हरीश शाह ने पिछले दिनों आयोजित हुए फूड लाइसेंस कैंप के सफलतापूर्वक आयोजन पर धन्यवाद दिया। उन्होंने बताया कि कैंप में 2 दिन में रिकॉर्ड 328 व्यापारियों का लाइसेंस बना। उन्होंने कहा आगे भी इस तरह के कैंप आयोजित किए जाएंगे, यही नहीं अन्य सरकारी विभागों से जुड़ी व्यापारियों की परेशानियों को भी शिविरों के माध्यम से हल कराया जाएगा। बैठक में वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं संयोजक सुरेश कुमार ने कहा कि अवैध होने के बावजूद ऑनलाइन दवा की बिक्री जारी है, इसी वजह से नशे, गर्भपात तथा अन्य प्रतिबंधित दवाएं भी आसानी से उपलब्ध हो जा रही हैं। उन्होंने कहा की यदि यह सब ऐसे ही चलता रहा तो इसके खिलाफ आंदोलन भी किया जा सकता है। उन्होंने कहा फिलहाल इस मसले पर शासन को एक ज्ञापन प्रेषित किया जाएगा।

बैठक में दवा मार्केट की कठिनाइयों पार्किंग, शौचालय, लाइट इत्यादि की सुविधा अविलंब उपलब्ध करवाने के प्रयासों से भी अवगत कराया गया। बैठक में दवा कंपनियों द्वारा मार्जिन कम किए जाने पर भी चिंता व्यक्त की गई तथा इस संबंध में जल्दी निर्णय लिये जाने की बात कही गयी। इस बैठक में रचित रस्तोगी, एके भार्गव, अमित अग्रवाल, शैलेंद्र सिंह, संजीव अग्रवाल, आदित्य प्रताप सिंह, अंकित रस्तोगी, अभिषेक रस्तोगी, आलोक एरोन, संजीव पोरवाल, जसविंदर पाल भाटिया तथा अन्य पदाधिकारियों ने भी अपने-अपने विचार प्रकट किए।