Thursday , December 2 2021

डीआरडीओ ने कोरोना की दवा क्‍लीनिकल ट्रायल के लिए की जारी

-एक सैशे के पाउडर को घोलना होगा पानी में, दो बार में पीना होगा

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। कोरोना के उपचार के लिए रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन डीआरडीओ के इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंसेज इन्मास द्वारा बनाई गई पहली ओरल मेडिसिन 2-Deoxy-D-glucose को क्लीनिकल ट्रायल के लिए जारी कर दिया गया है।

डीआरडीओ के महानिदेशक कार्यालय से डीन ईएसआईसी को जारी पत्र में कहा गया है कि डॉ रेड्डीज लैब की मदद से तैयार की गयी कोरोना की दवा के 50 सैशे (प्रति मरीज 5 सैशे) जारी किए जा रहे हैं। इस दवा का क्लीनिकल ट्रायल करके इसकी रिपोर्ट शीघ्र जमा करने को कहा गया है।

पत्र में इसके सेवन के तरीके के बारे में बताया गया है कि दवा मरीज के शारीरिक वजन (प्रति किलो 45 मिलीग्राम) पर निर्धारित है। इस दवा को खाने के लिए तैयार करने के विषय में बताया गया है कि 100 मिलीलीटर पानी में एक पाउच घोलना है तथा आधा दोपहर के खाने के 20 से 30 मिनट पहले और बचा हुआ आधा रात को खाने के 20 से 30 मिनट पहले पांच दिन तक पीना है।डीआरडीओ ने कोरोना की दवा क्‍लीनिकल ट्रायल के लिए की जारी