Thursday , December 2 2021

कटे होठ व कटे तालू की फ्री सर्जरी से स्‍माइल लाने का मौका

-हेल्‍थ सिटी हॉस्पिटल में स्‍माइल ट्रेन प्रोजेक्‍ट के तहत की जा रही सर्जरी के लिए पंजीकरण जारी

ऑपरेशन से पहले    ऑपरेशन के बाद

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम एवं अमेरिका की संस्था स्माइल ट्रेन के सहयोग से गोमती नगर स्थित हेल्थ सिटी ट्रॉमा सेंटर एवं सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में जन्मजात कटे होठ एवं कटे तालू के मरीजों के लिए की सर्जरी के लिए निशुल्क पंजीकरण किया जा रहा है यह पंजीकरण 31 अगस्त तक चलेगा।

यहां जारी एक विज्ञप्ति में यह जानकारी देते हुए लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मनोज अग्रवाल ने कहा कि‍ कई बच्चों के होंठ व तालू जन्मजात कटे होते हैं, पूर्ण रूप से स्वस्थ बच्चे की मुस्कान ही उसका आत्मविश्वास जगाती है और इसी आत्मविश्वास को वापस लाने में अमेरिका की स्माइल ट्रेन प्रोजेक्ट के निदेशक डॉ वैभव खन्ना हेल्थ सिटी ट्रॉमा सेंटर एवं सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में अपनी सार्थक भूमिका निभा रहे हैं। डॉ मनोज ने बताया कि‍ कटे होंठ व तालू की समस्या लगभग 3000 से 5000 शिशुओं में से एक को हो सकती है।

इस बारे में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के लखनऊ के नोडल अधिकारी डॉ वीके दुबे ने कहा कि यह बीमारी बच्चों में जन्मजात होती है तथा प्लास्टिक सर्जरी द्वारा बच्चों के चेहरे पर मुस्कान वापस लाई जा सकती है उन्होंने बताया कि स्माइल ट्रेन संस्था द्वारा किसी भी उम्र के लोगों का इलाज पूर्णतया निशुल्क किया जाता है, उन्होंने यह भी बताया कि अब तक इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत डॉ वैभव खन्ना के नेतृत्व में 11000 से अधिक मरीजों की निशुल्क सफल सर्जरी की जा चुकी है।

इस विषय में प्रोजेक्ट डायरेक्टर व प्लास्टिक सर्जन डॉ वैभव खन्ना ने कहा कि यह जन्मजात विकार अन्य विकारों की अपेक्षा ज्‍यादा पाया जाता है। उन्होंने कहा की माता-पिता शुरुआती दौर में इस बीमारी को समझ नहीं पाते हैं। समय से उचित चिकित्सीय परामर्श न मिलने से इस बीमारी का इलाज थोड़ा मुश्किल हो जाता है। उन्होंने कहा अगर पैदाइशी कटे होठ वाले बच्चे का जन्म से 4 माह तक और कटे तालू वाले बच्चे का इलाज जन्म से 8 से 15 माह के दौरान कर लिया जाए तो बच्चे के चेहरे पर जीवन भर मुस्कान रहती है। उन्‍होंने कहा‍ कि हालांकि यदि आपके बच्चे की उम्र उसके आगे निकल गई है तो भी सर्जरी हो सकती है, पर सही समय पर सर्जरी कराने से नतीजा सामान्य से ज्यादा अच्छा होता है। यह सर्जरी किसी भी उम्र के रोगियों के लिए निशुल्क उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि हेल्थ सिटी हॉस्पिटल में संचालित स्माइल ट्रेन प्रोजेक्ट का यही वास्तविक उद्देश्य है।

इस बारे में डी ई आई सी मैनेजर आरबीएसके डॉ गौरव सक्‍सेना ने बताया कि जन्मजात कटे होंठ व तालू की विकृति सर्जरी व अन्य उपचारों से पूरी तरह दूर हो सकती है इसके संपूर्ण इलाज में क्रेनियोफेशियल सर्जरी जैसी प्रक्रियाओं का भी इस्तेमाल होता है। उन्होंने कहा जब यह सुविधा निशुल्क उपलब्ध हो रही है तो किसी भी गरीब मरीज के बच्चे को इस विकृति के साथ रहने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि पूर्ण रूप से ठीक बच्चे की मुस्कान ही उसको आत्मविश्वास दिलाती है और इस आत्मविश्वास को वापस दिलाना ही स्‍माइल ट्रेन प्रोजेक्ट का मुख्य ध्‍येय भी है। जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि हेल्थ सिटी ट्रॉमा सेंटर एवं सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में आयोजित किए जा रहे हैं इस शिविर में पंजीकृत रोगियों का संपूर्ण इलाज पूर्णतया निशुल्क किया जाएगा। उपलब्‍ध पंजीकरण 5 अगस्त से प्रारंभ हो चुका है प्रात: 10 बजे से सायं 5 बजे तक किया जाने वाला यह पंजीकरण 31 अगस्त तक जारी रहेगा। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए संस्था के प्रतिनिधि नीरज कुमार शर्मा के मोबाइल संख्या 9454 159 999 तथा 9565 437 056 पर संपर्क किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × 5 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.