Sunday , December 5 2021

आयुष्‍मान योजना : अभी तक 341 प्राइवेट और 99 राजकीय चिकित्‍सालयों ने किया है आवेदन

गरीब परिवारों को मुफ्त इलाज की योजना के लिए अस्‍पतालों के चयन का कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिये प्रमुख सचिव ने

 

प्रमुख सचिव, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, उ0प्र0 प्रशान्त त्रिवेदी वीडियों काॅन्फ्रेन्सिग के माध्यम से आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान की तैयारियों की समीक्षा करते हुए

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य प्रमुख सचिव प्रशान्त त्रिवेदी ने समस्त मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिये है कि आयुष्मान भारत योजना का लाभ पात्रों को दिलाने के लिए पब्लिक एवं प्राइवेट सेक्टर हास्पिटल को इम्पैनल्ड (सूचीबद्ध) करने का कार्य प्राथमिकता से शीघ्र पूर्ण किया जाय। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि आयुष्मान मित्र की नियुक्ति/नामित करने का कार्य भी शीघ्र पूर्ण कराया जाये। उन्होंने कहा कि समस्त मुख्य चिकित्सा अधिकारी नियुक्त/नामित आयुष्मान मित्रों के नाम, फोन नम्बर तथा ई-मेल आईडी आदि को भी साचीज कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

 

प्रशान्त त्रिवेदी आज योजना भवन में वीडियों कान्फ्रेंसिंग के जरिये मुख्य चिकित्सा अधिकारियों एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षकों को निर्देश दे रहे थे। उन्होंने योजना का संचालन प्रारम्भ करने के लिए राजकीय एवं निजी चिकित्सालयों को योजना के अन्तर्गत आबद्ध करने की अद्यतन स्थिति की जनपदवार समीक्षा की। उन्होंने बताया कि जनपद गाज़ियाबाद द्वारा अभी तक 10 चिकित्सालयों को आबद्ध किया जा चुका है, जिनमें 2 चिकित्सालय एन0ए0बी0एच0 प्रमाणित हैं। अन्य जनपदों में भी राजकीय चिकित्सालयों के साथ ही गुणवत्तापरक निजी चिकित्सालयों को आबद्ध करने की कार्यवाही तेजी से चल रही है। अब तक कुल 341 निजी चिकित्सालयों तथा 99 जनपद स्तरीय राजकीय चिकित्सालयों द्वारा योजना में आबद्धता हेतु आवेदन किया जा चुका है। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जनपद स्तर पर डिस्ट्रिक्ट इम्प्लीमेन्टेशन यूनिट को स्थापित करने के लिए आवश्यक मानव संसाधन के चयन एवं तैनाती के सम्बन्ध में भी तेजी से कार्यवाही पूर्ण की जाय। इसी प्रकार राजकीय चिकित्सालयों में लाभार्थियों की पहचान एवं योजना का लाभ प्राप्त करने में उनकी सहायता हेतु आयुष्मान मित्र के चयन की कार्यवाही भी शीघ्र पूर्ण करायी जाय।

 

उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान से सम्बंधित आवश्यक कार्यों में और अधिक गति लाकर शीघ्र पूर्ण कराया जाय ताकि योजना का क्रियान्वयन यथाशीघ्र प्रारम्भ किया जा सके। जिससे इस योजना का लाभ जनता को उपलब्ध हो। आयुष्मान भारत से सम्बन्धित डेटा इण्ट्री के कार्य को प्राथमिकता से शीघ्र पूर्ण किया जाय। लाभार्थियों की आॅनलाइन डाटा फीडिंग में अपेक्षित उपलब्धि नहीं होने पर प्रमुख सचिव द्वारा कुछ जनपदों को चेतावनी भी दी गयी।

 

प्रमुख सचिव ने कहा कि मुख्य चिकित्साधिकारी आयुष्मान भारत योजना के तहत इम्पैनल्ड हेतु प्राइवेट सेक्टर हास्पिटल के आवेदन पत्रों का इन्सपेक्शन करके तत्काल साचीज कार्यालय में भेज दिया जाये जिससे स्टेट इम्पैनलटेशन कमेटी द्वारा भी एप्रूब्ड कराया जा सके। आवेदन पत्र आदि को पोर्टल पर अपलोड प्राथमिकता से कराया जाय।

 

वीडियों कान्फ्रेन्सिंग के दौरान एमडी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन पंकज कुमार, विशेष सचिव उमेश मिश्रा, साचीज की सीईओ  संगीता सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − 15 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.