Wednesday , February 8 2023

आरोग्यता अभियान का नेतृत्व करे आरोग्य भारती : योगी

-आरोग्य भारती के अखिल भारतीय प्रतिनिधि मण्डल की बैठक का भव्य उद्घाटन

सेहत टाइम्‍स  

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि आरोग्य भारती अखिल भारतीय स्तर पर संपूर्ण आरोग्यता के लिए काम कर रही है। इस सदी की सबसे बड़ी महामारी कोरोनाकाल में हम सबने आरोग्य भारती की कार्य पद्धति को नजदीक से महसूस किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के समय जब समाज में जागरूकता की बात आयी तो आरोग्य भारती ने सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर समाज आरोग्य प्रदान करने का काम किया। 

मुख्‍यमंत्री ने यह उद्गार आज शनिवार को यहां कानपुर रोड स्थित सीएमएस के सभागार में आयोजित आरोग्य भारती के अखिल भारतीय प्रतिनिधि मण्डल की बैठक का भव्य उद्घाटन करते हुए व्‍यक्‍त किये। कार्यक्रम का शुभारम्‍भ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य व आरोग्य भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. राकेश पंडित ने भगवान धन्वंतरि के चित्र पर पुष्पांजलि व दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। 

योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्‍बोधन में कहा कि एक स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए आवश्यक है कि हम प्रत्येक व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए कदम बढ़ाएं। सही मायनों में स्वस्थ समाज से ही स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण होता है।  उन्‍होंने कहा कि कोरोना में भारत का परिणाम किसी भी अन्य देश की तुलना में बेहतर रहा तो इसके पीछे सबसे बड़ा कारण यही रहा कि सरकार की मशीनरी के साथ-साथ स्वयंसेवी संस्थाओं ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। आरोग्यता के प्रति सरकार नए-नए प्रयास कर रही है। ऐसे प्रयासों का आरोग्य भारती जैसे संगठनों को नेतृत्व करना चाहिए। 

राष्ट्र को स्वस्थ रखने के लिए स्व को जगाना होगा

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डा. मनमोहन वैद्य ने कहा कि राष्ट्र को स्वस्थ रखने के लिए स्व को जगाना होगा। इसलिए रोगी को रोगमुक्त करने के साथ-साथ उसके साथ आत्मीय संबंध भी बनाना है। हमें व्यक्ति के अंदर सुप्त भारत भाव को जगाना है। 

सह सरकार्यवाह डा. मनमोहन वैद्य ने कहा कि व्यक्ति समाज व राष्ट्र अरोग्य हो इसके लिए आरोग्य भारती काम करती है।  अरोग में से आरोग्य बना है। डा. मनमोहन वैद्य ने कहा कि आध्यात्मिकता के कारण भारत की दुनिया में विशिष्ट पहचान है। अध्यात्म ने सारे समाज के व्यक्तित्व को निखारने का काम किया। उन्होंने कहा कि भारत में विभाजनकारी शक्तियां जो समाज को लड़ाने का काम कर रही हैं वे सफल नहीं होंगी। उन्होंने कहा कि सहिष्णुता भारत की विशेषता नहीं है, सबको साथ लेकर चलना भारत की विशेषता है। आध्यात्मिकता के कारण ही समाज को लौटाना धर्म कहा गया है। कोरोनाकाल में यह जानते हुए भी कि यह रोग घातक है फिर भी लाखों स्वयंसेवकों ने समाज की सेवा की। 

जन स्‍वास्‍थ्‍य की बेहतरी के लिए एलोपैथ व आयुष के साथ समन्‍वय बना रही सरकार : मनसुख मांडविया 

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने वर्चुअली रूप से कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आरोग्य भारती स्वस्थ भारत समृद्ध भारत के संकल्प को साकार कर रही है। स्वास्थ्य को संपूर्णता से देखने की जरूरत है। इसलिए स्वास्थ्य के संबंध में संकीर्णता से नहीं संपूर्णता में विचार करने की आवश्यकता है। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार जन स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए एलोपैथ व आयुष के साथ समन्वय बनाने का कार्य कर रही है।

मनसुख मांडविया ने कहा कि गुणवत्तायुक्त चिकित्सा शिक्षा के लिए देश में एम्स की संख्या बढ़ाई जा रही है। पिछले सात वर्षों में मेडिकल की सीटों में बढ़ोतरी की गयी है। मनसुख मांडविया ने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत मुफ्त दवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। 

पूरे भारत को स्वस्थ रखने के लिए काम करती है आरोग्‍य भारती : डा. राकेश पंडित 

आरोग्य भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश पंडित ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बताया कि आरोग्य भारती पूरे भारतवर्ष को स्वस्थ रखने के लिए काम करती है। व्यक्ति स्वस्थ कैसे रह सकता है इसको लेकर आरोग्य भारती काम करती है। राकेश पंडित ने कहा कि ‘मेरा स्वास्थ्य मेरी जिम्मेदारी’ इस विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाने का काम आरोग्य भारती करती है। उन्होंने कहा कि स्वस्थ व्यक्ति द्वारा ही स्वस्थ राष्ट्र बन सकता हैं। स्वस्थ व्यक्ति स्वस्थ ग्राम व स्वस्थ राष्ट्र की परिकल्पना को लेकर आरोग्य भारती काम करती है। 

आरोग्य भारती के कार्यकारी अध्यक्ष डा. बीएन सिंह ने बताया कि आरोग्य भारती की अखिल भारतीय प्रतिनिधि मंडल बैठक में संपूर्ण देश के सभी राज्यों से एकत्रित राज्य स्तर के सभी कार्यकर्ता स्वास्थ्य संबंधी विभिन्न विषयों के बारे में चिंतन मंथन कर आगामी वर्ष की कार्य योजना बनायेंगे। डा. बीएन सिंह ने बताया कि आरोग्य भारती का प्रमुख विषय रोगों की रोकथाम पर केंद्रित है। इस अवसर पर मंचस्थ अतिथियों ने आरोग्य भारती की पत्रिका आरोग्य संपदा और मुस्कुराइए आप लखनऊ में हैं, स्मारिका का विमोचन किया। 

इस कार्यक्रम के उदघाटन सत्र में प्रदेश के आयुष मंत्री दयाशंकर मिश्र दयालु, भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा, आरोग्य भारती के राष्ट्रीय संगठन मंत्री डॉ. अशोक वार्ष्णेय, अवध प्रान्त के प्रान्त प्रचारक कौशल, सह प्रान्त प्रचारक मनोज, संघ के वरिष्ठ प्रचारक वीरेन्द्र सिंह, अशोक केडिया एवं भारतीय चिकित्सा पद्धति आयोग के अध्यक्ष वैद्य जयन्त देव पुजारी, सह क्षेत्र संयोजक आरोग्य भारती डा. संग्राम सिंह, अवध प्रान्त के सचिव डॉ. इन्द्रेश सिंह, लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया, बाल आयोग के सदस्य श्याम त्रिपाठी, जगदीश गांधी, प्रकाश मिश्रा, राजीव मिश्रा के साथ ही चिकित्सा प्रकोष्ठ भाजपा लखनऊ अध्यक्ष व प्रकृति भारती चिकित्‍सा प्रकोष्‍ठ के सदस्‍य डॉ. शाश्वत विद्याधर अपनी चिकित्सा प्रकोष्ठ की टीम के साथ उपस्थित रहे। इनके अलावा बैठक में  प्रशांत भाटिया (सदस्य-प्रांत कार्यकारिणी), गंगा सिंह (प्रांत संपर्क प्रमुख), सुरेंद्र सिंह (प्रांत धर्म जागरण प्रमुख), वीरपाल सिंह भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twelve − ten =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.