Thursday , October 28 2021

अधेड़ ने तीन साल की मासूम के मुंह में फोड़ दिया सुतली बम

वजह स्‍पष्‍ट नहीं, आरोपी फरार, गंभीर हालत में बच्‍ची का हो रहा इलाज

 

लखनऊ। दीपावली के जश्‍न के बीच मेरठ में एक अधेड़ की हैवानियत वाली हरकत से हंसती-खेलती बच्‍ची जिन्‍दगी और मौत के बीच झूल रही है। इस अधेड़ ने तीन साल की मासूम बच्‍ची के मुंह के अंदर सुतली बम लगाकर फोड़ दिया, जिससे बच्‍ची के मुंह के चिथड़े उड़ गये। बच्‍ची गंभीर रूप से घायल हो गयी है, गंभीर हालत में उसे नगर स्थित नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मुकदमा कायम कर लिया है।

 

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार पटाखा फोड़ने के नाम पर मेरठ में एक हैवानियत वाली हरकत की गई. यहां एक अधेड़ ने 3 साल की मासूम के मुंह में सुतली बम फोड़ दिया जिसकी वजह मुंह के चिथड़े उड़ गए। यह मामला सरधना क्षेत्र के मिलक गांव का है। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया. बच्ची को लहूलुहान हालत में देख ग्रामीण उधर को दौड़े। आरोपी की तलाश की, लेकिन आरोपी हत्थे नहीं चढ़ सका।

 

मिली जानकारी के अनुसार सरधना क्षेत्र के मिलक गांव के रहने वाले शशिपाल की तीन साल की बेटी घर में खेल रही थी। घर के बाहर बच्चे पटाखे जला रहे थे। बच्ची भी घर के बाहर खेलने चली गई, इसी दौरान गांव का एक अधेड़ वहां पहुंचा और उसने मासूम के मुंह में बुलेट बम रखकर आग लगी दी। बम फूटने से बच्ची के मुंह के चिथड़े उड़ गए। बच्ची गंभीर रूप से घायल हो गई।

 

लोगों के आने पर आरोपी मौके से फरार हो गया। हालांकि, ग्रामीणों ने उसका पीछा करने की कोशिश की, लेकिन आरोपी उनके हाथ नहीं आया। मासूम बच्ची आरुषि के पिता शशिपाल मौके पर पहुंचे और बच्ची को ईश्वर नर्सिंग होम में भर्ती कराया। बच्ची के मुंह में करीब 50 टांके आए हैं। संक्रमण गले तक पहुंच गया है, इसके चलते उसकी हालत गंभीर बनी है। मंगलवार को परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपित हरपाल पुत्र कमल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली। बताया जा रहा है कि संक्रमण बच्ची के गले तक पहुंच गया है, इस वजह से बच्ची की हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं, शशिपाल ने आरोपी के खिलाफ नामजद तहरीर देते हुए कार्रवाई की मांग की है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है लेकिन अभी तक आरोपी फरार है। यह हरकत मजाक में की गई या सोची समझी साजिश है? ये जांच का विषय है। पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है।