Friday , May 27 2022

38 वर्ष पूर्व एमडी की छात्रा बनकर आयीं प्रो सुनीता विभागाध्‍यक्ष के रूप में हुईं सेवानिवृत्‍त

-कुलपति ने युवा चिकित्‍सकों के लिए प्रेरणा बताया प्रो सुनीता तिवारी को
-प्रो सुनीता के बाद अब फीजियोलॉजी विभाग के मुखिया होंगे प्रो नरसिंह वर्मा


सेहत टाइम्‍स
लखनऊ।
किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के फीजियोलॉजी विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो0 सुनीता तिवारी आज 20 जनवरी को सेवानिवृत्‍त हो गयीं । प्रो सुनीता तिवारी 1983 में संस्‍थान (उस समय केजीएमसी) में एमडी की छात्रा के रूप में आयीं थीं। इसके बाद इसी संस्‍थान में अपना कॅरियर चुनते हुए यहां संकाय के रूप में सेवा में आ गयी थीं।
प्रो सुनीता के सेवानिवृत्त होने पर चिकित्सा विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन स्थित ब्राउन हाल में विदाई समारोह का आयोजन किया गया । समारोह की अध्‍यक्षता करते हुए चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति ले0जन0 डॉ0 बिपिन पुरी ने कहा प्रो0 सुनीता तिवारी एक योग्य चिकित्सक शिक्षक होने के साथ बेहतरीन,सम्वेदनशील इंसान भी है । उन्होंने कहा प्रो0 सुनीता ने अपना पूरा जीवन मरीजों के उपचार एवम उनकी सेवा में लगाया है, जो आज के युवा चिकित्सकों के लिए प्रेरणा है। इसके साथ ही उन्होंने प्रो0 सुनीता के उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं।

इस मौके पर प्रो0 सुनीता तिवारी ने कहा कि केजीएमयू के लिए काम करना उनके लिए एक गौरवान्वित व सुखद अनुभव रहा । उन्होंने साथी चिकित्सको को हर समय सहयोग के लिए धन्यवाद कहा । साथ ही युवा चिकित्सकों को ऊर्जा के साथ गरीबों और जरूरतमंदों के हित में काम करने की नसीहत दी ।

ज्ञात हो प्रो सुनीता तिवारी केजीएमयू में पिछले 18 वर्षों से अधिक समय से फीजियोलॉजी विभाग की प्रमुख रहीं। उन्होंने राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज रांची (झारखंड) से एमबीबीएस पूरा किया और जून 1983 में किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज लखनऊ विश्वविद्यालय में पीजी छात्र के रूप में दाखिला लिया। जून 1986 में पोस्ट-ग्रेजुएशन (एमडी, फीजियोलॉजी ) पूरा किया, उन्‍होंने अपना केजीएमसी का सफर पोस्ट एमडी के रूप में जारी रखा। मई 1987 तक विभाग में रेजीडेंट रहीं। इसके बाद वह नवंबर 1988 में तदर्थ व्याख्याता के रूप में एक संकाय के रूप में शामिल हुईं और नवंबर 1989 में यूपी, लोक सेवा आयोग इलाहाबाद द्वारा नियमित हो गईं। तब से वह इस विश्वविद्यालय की एक नियमित संकाय रहीं और उन्होंने विश्वविद्यालय की लगभग 39 वर्षों तक सेवा की।

डॉ सुनीता तिवारी को कई राष्ट्रीय पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया है, जैसे डॉ. के.पी. पुथुरया बेस्ट टीचर अवॉर्ड और मेजर जनरल एस.एल.-भाटिया ओरेशन अवार्ड । वह अपने स्नातक और स्नातकोत्तर मेडिकल छात्रों के लिए एक रोल मॉडल हैं। उन्होंने अनुसंधान में कई पीएचडी और एमडी छात्रों का मार्गदर्शन किया है और केजीएमयू द्वारा अनुसंधान में उत्कृष्टता पुरस्कार प्राप्त किया है।
प्रो सुनीता तिवारी के सेवानिवृत्त होने के उपरांत प्रो नरसिंह वर्मा फीजियोलॉजी विभाग के विभागाध्यक्ष रूप में अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे ।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रति कुलपति प्रो0 विनीत शर्मा, प्रो0 प्रो0 उमा सिंह ,डीन एकेडेमिक, सी एम एस डॉ एस एन संखवार, प्रो0 सूर्यकान्त एवं अन्य विभागों के विभागाध्यक्ष सम्मिलित हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 + thirteen =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.