तीन माह से नहीं मिला वेतन, प्रदेशव्यापी आंदोलन की चेतावनी

सुनील यादव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के अधिकतर चिकित्सालयों में 2-3 माह से कर्मचारियों को वेतन नहीं मिला है, जिससे इन कर्मचारियों को बेहद कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। वेतन न मिलने से जहां अन्य खर्चे रुके हुए हैं वहीं अब तो धीरे-धीरे खाने के भी लाले पड़ रहे हैं। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के उपाध्यक्ष व राजकीय फार्मेसिस्ट महासंघ उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष सुनील यादव ने सरकार से मांग की है कि इन कर्मचारियों का बकाया वेतन शीघ्र भुगतान कराये। उन्होंने कहा है कि हालात नहीं सुधरे तो प्रदेशव्यापी आंदोलन को मजबूर होना पड़ेगा।
श्री यादव ने बताया कि अधिकांश ग्रामीण चिकित्सालयों का यही हाल हैं यहां पर कार्यरत कर्मचारियों को पिछले दो-दो, तीन-तीन महीनों से वेतन का भुगतान नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि हमारी सरकार से अपील है कि इस प्रकरण में हस्तक्षेप कर इन कर्मचारियों का बकाया वेतन भुगतान शीघ्र करायें।

उन्होंने सरकार से मांग की है कि हर माह की अंतिम तारीख को कर्मचारियों को वेतन दिया जाये साथ ही कर्मचारियों को देयक वर्षों से लम्बित हैं, उनकी जीपीएफ पासबुक अधूरी पड़ी हैं, सर्विस बुक अधूरी पड़ी हैं, एरियर का भुगतान होना भी शेष है,  इन प्रकरणों का निपटारा भी किया जाये। श्री यादव ने कहा है कि कर्मचारियों के सामने घर चलाने की भीषण समस्या पैदा हो गयी है, ऐसे में अगर यही हालात रहे तो प्रदेशव्यापी हड़ताल पर जाने को बाध्य होना पड़ेगा।