Thursday , July 7 2022

योगी ने कहा, अधिक संक्रमण वाले राज्‍यों से आने वालों से लें कोरोना निगेटिव रिपोर्ट

-3 फीसदी से ज्‍यादा पॉजिटिव वाले राज्‍यों के लिए लगायी गयी है शर्त  

-वैक्‍सीनेशन के दोनों डोज ले चुके लोगों को मिलेगी रिपोर्ट दिखाने से छूट

24 घंटों में पूरे प्रदेश में मिले 56 नये संक्रमित, सात की मौत

-47 जिलों में नहीं मिला एक भी नया मरीज, लखनऊ में मिले 4

योगी आदित्यनाथ

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि जिन राज्‍यों में कोरोना पॉजिटिव की दर 3 प्रतिशत से ज्‍यादा है, उन राज्‍यों से उत्‍तर प्रदेश आने वाले लोगों को अब आरटीपीसीआर टेस्‍ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी जरूरी है, हालांकि जिन लोगों ने कोरोना वैक्‍सीन की दोनों खुराकें ले ली हैं, उन्‍हें इसमें छूट दी जा सकती है।

मुख्यमंत्री ने आज एक बैठक के दौरान कहा कि राज्य सरकार की ट्रेस, टेस्ट एंड ट्रीट की नीति से उत्तर प्रदेश में कोविड संक्रमण के मामलों में आशा अनुकूल तेजी से कमी आई है। उन्होंने कोरोना से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश देते हुए कहा है कि कोरोना महामारी वर्तमान में नियंत्रित स्थिति में जरूर है लेकिन इसके प्रति अतिरिक्त सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा देश के विभिन्न राज्यों में कोविड संक्रमण के काफी मामले आ रहे हैं ऐसे में जिन राज्यों में 3% से अधिक कोरोना पॉजिटिव की दर हो उन राज्यों से उत्तर प्रदेश में आने वाले लोगों के लिए आरटी पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की जाए जो की यात्रा प्रारंभ होने से 4 दिन से ज्यादा पुरानी न हो। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज प्राप्त कर लिए हैं उन्हें इससे छूट दी जा सकती है। मुख्यमंत्री ने रेलवे, बस स्टेशन और हवाई अड्डों पर एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री को बताया गया कि बीते 24 घंटों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 56 नए मामले प्रकाश में आए हैं। इस दौरान प्रदेश में 7 लोगों की मृत्यु हुई है, इनमें बुलंदशहर में एक, कानपुर नगर में दो, अमेठी में एक, अंबेडकरनगर में एक, मिर्जापुर में एक, औरैया में एक व्यक्ति की मौत शामिल है। इसी अवधि में 69 संक्रमित व्यक्तियों को सफल उपचार के बाद डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या 1262 है। इसके बावजूद प्रतिदिन किये जाने वाले टेस्ट की संख्या नहीं घटाई गई है। 24 घंटों में प्रदेश में कुल 2,54,771 कोरोना टेस्ट किये गये हैं, इस प्रकार राज्य में अब तक कुल 6 करोड 23 लाख 71 हजार 542 कोरोना टेस्‍ट संपन्न हो चुके हैं। इस समय राज्य में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.6% है। मुख्यमंत्री को बताया गया कि मेडिकल कॉलेजों में आईसीयू के निर्माण की कार्यवाही तेजी से चल रही है उन्हें यह भी बताया गया कि प्रदेश के 7 जनपदों अलीगढ़, चित्रकूट, हाथरस, कासगंज, महोबा, शामली तथा श्रावस्ती में अब कोविड का एक भी मरीज नहीं है। ये जनपद कोविड संक्रमण से मुक्त हैं। इसी के साथ ही बीते 24 घंटों में किसी भी जनपद में दहाई अंक में नए केस की पुष्टि नहीं हुई है, जबकि राज्य के 47 जिलों में संक्रमण का एक भी नया केस नहीं पाया गया है जबकि 28 जनपदों में जो नए मरीज मिले हैं उनकी संख्या इकाई में है। राजधानी लखनऊ में इस दौरान चार नए संक्रमित मरीज पाए गए हैं।

मुख्यमंत्री को अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में कोविड टीकाकरण का कार्य सुचारु रूप से चल रहा है। अब तक राज्य में चार करोड़, तीन लाख, 52 हजार से अधिक कोविड वैक्सीन लगाई जा चुकी है, जो देश में सर्वाधिक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन के प्रति लोगों को सतत जागरूक किया जाए। टीकाकरण के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया को प्रोत्साहित किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eight + 3 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.