Thursday , December 2 2021

कोविड से हुई मौत के बाद बदल गये महिलाओं के शव

-संजय गांधी पीजीआई में अस्‍पताल प्रशासन से हुई बड़ी चूक

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। संजय गांधी पीजीआई में हॉस्पिटल प्रशासन की चूक से कोविड से हुई दो महिलाओं की मौत के बाद उनके शव आपस में बदल गये। परिजनों ने जब शव बदले हुए देखे तो इसका पता चला। बाद में दोनों परिवारों को सही शव सौंप दिये गये।

मिली जानकारी के अनुसार संजय गांधी पीजीआई में भर्ती फतेहपुर निवासी 58 वर्षीय जरीना और वाराणसी निवासी 37 वर्षीय श्‍वेता श्रीवास्‍तव की कोरोना से मौत हो गयी। हॉस्पिटल प्रशासन की चूक के चलते मुस्लिम महिला जरीना बानो की बॉडी श्‍वेता श्रीवास्‍तव के परिजनों को सौंप दी तथा श्‍वेता श्रीवास्‍तव की बॉडी जरीना बानो के घरवालों को दे दी। बताया जाता है कि बॉडी को ले जाने के बाद जब परिजनों ने देखा तो यह चूक सामने आयी। इसके बाद परिजनों ने इस बारे में हॉस्पिटल प्रशासन को सूचना दी और अपना रोष जताया। आनन-फानन में हॉस्पिटल प्रशासन ने ड्राइवर को सूचना देकर शव वापस मंगाये और परिजनों को सौंपे।

इस बारे में पीजीआई प्रशासन की ओर से कहा गया है कि आज शाम 5 बजे, बॉडी बैग में पैक दो कोविड डेड बॉडीज एक साथ शव वाहन पर लोड होने के लिए आए। वे अलग-अलग गलत वाहनों में लोड हो गए। इसके बाद जल्‍दी ही यह गलती पकड़ ली गयी और वाहनों को वापस बुलाकर शवों को परिजनों को सौंप दिया गया और मामले को सुलझा लिया गया।