Wednesday , December 1 2021

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने वादा निभाया, फार्मासिस्‍ट के 93 पद सृजित

इनमें 84 पद अस्‍पतालों के लिए और नौ पद प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों के लिए

 

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश सरकार ने फार्मासिस्‍टों के पदों के सृजन करने का अपना वादा पूरा किया। इसके तहत कुल 93 फार्मासिस्‍ट के पद सृजित किये गये हैं। पिछले दिनों फार्मासिस्‍टों की लड़ाई लड़ने वाले डिप्‍लोमा फार्मासिस्‍ट एसोसिएशन के साथ हुई वार्ता में प्रमुख सचिव ने सौ बेड के चिकित्‍सालयों में नर्सों की संख्‍या दोगुनी करने और प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों पर फार्मासिस्‍टों की तैनाती पर सहमति जतायी थी। इस आदेश पर खुशी जताते हुए एसोसिएशन ने शासन का आभार जताया है तथा रिक्‍त पदों पर शीघ्र नियुक्ति की मांग की है।

 

राजकीय फार्मेसिस्ट महासंघ के अध्यक्ष व डिप्‍लोमा फार्मासिस्‍ट संघ के प्रवक्‍ता सुनील यादव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जारी शासनादेश के अनुसार सौ बेड के अस्‍पतालों के लिए 84 फार्मासिस्‍टों के नये पद सृजित किये गये हैं जबकि नौ प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों के लिए नौ फार्मासिस्‍ट के पदों का सृजन किया गया है।

 

जिन नौ प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों के लिए पदों का सृजन हुआ है उनमें लखनऊ के बरावन कलां, मैनपुरी के कौआटांडा, बांदा का पखरौली और मझीवा, गौतमबुद्ध नगर के दुजाना, रामपुर के ढोकपुरी टांडा, कानपुर देहात के सराय, बरेली के फरीदपुर (दमखोदा ब्‍लॉक) और खीरी के बिलराया स्थित प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र शामिल हैं।