Wednesday , November 30 2022

उपद्रवियों के हमले में इस्‍तेमाल किये गये तीन ट्रक ईंट-पत्‍थरों से पटी हुई थीं सड़कें

-नगर निगम ने 200 कर्मचारियों को लगाया सड़कों की सफाई में

लखनऊ। नागरिकता संशोधन कानून सीएए और एनआरसी को लेकर राजधानी लखनऊ में गुरुवार को कई स्थानों पर हुए विरोध, प्रदर्शन के साथ की उपद्रवियों की ओर से की गयी पत्‍थरबाजी का अंदाज इसी से लगाया जा सकता है कि पुराने लखनऊ इलाके से शाम करीब 6 बजे तक नगर निगम ने तीन ट्रक ईंट-पत्‍थर बटोरे। इनका इस्‍तेमाल पुलिस के ऊपर फेंकने के लिए उपद्रवियों द्वारा किया गया था।

नगर निगम के मुख्‍य अभियंता राम नगीना त्रिपाठी के अनुसार पुराने लखनऊ की सड़क ईंट-पत्‍थरों से पटी हुई थी, इसे साफ कराने के लिए करीब 200 से ज्‍यादा कर्मचारी लगाये गये हैं, इन कर्मचारियों ने शाम 6 बजे तक तीन छोटी ट्रक ईंट-पत्‍थर बटोर कर उठाये। प्रदर्शनकारियों के पथराव करने की वजह से बड़ी मात्रा में सड़कों पर ईंट-पत्थर पड़े हुए थे।

आपको बता दें कि मिली खबरों के अनुसार परिवर्तन चौक, हजरतगंज, मदेयगंज, खदरा के बाद ठाकुरगंज में भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया। हिंसक भीड़ ने एक पुलिस चौकी में आग लगा दी। पुराने लखनऊ में भी हिंसा फैली। पुलिस ने उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। मदेयगंज पुलिस चौकी के बाहर खड़ी दो बाइकों में प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी।