Monday , August 8 2022

स्‍तनपान को लेकर बड़ी चुनौतियां हैं, जिन्‍हें दूर करना जरूरी

-लोहिया आयुर्विज्ञान संस्‍थान में विश्‍व स्‍तनपान सप्‍ताह पर सीएमई का आयोजन

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। 1 से 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान सप्ताह के अवसर पर डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, लखनऊ में प्रसूति एवं स्त्री रोग विभाग और बाल रोग विभाग ने अपने आरपीजी मेमोरियल मदर एंड चाइल्‍ड रेफरल हॉस्पिटल में स्‍तनपान पर एक सतत चिकित्‍सा शिक्षा सीएमई कार्यक्रम का आयोजन किया। 

इस कार्यक्रम में संस्‍थान की निदेशक प्रोफेसर सोनिया नित्यानंद के साथ-साथ सीएमएस प्रो राजन भटनागर, एमएस डॉ श्रीकेश सिंह की उपस्थिति भी रही।  कार्यक्रम का आयोजन और संचालन प्रसूति एवं स्त्री रोग विभाग की एचओडी प्रो स्मृति अग्रवाल और बाल रोग विभाग की एचओडी डॉ दीप्ति अग्रवाल के मार्गदर्शन में किया गया था।

बाल रोग विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ शेतांशु श्रीवास्तव के सीएमई में आये लोगों का परिचय देने के बाद केजीएमयू की पूर्व डीन स्‍त्री रोग विशेषज्ञ डॉ विनीता दास ने अपने अनुभव के साथ उपस्थित लोगों को बताया कि स्‍तनपान को लेकर किस प्रकार की चुनौतियां हैं तथा उन्‍हें किस प्रकार दूर किया जा सकता है।

कार्यक्रम को महाप्रबंधक, बाल स्वास्थ्य, एनएचएम डॉ वेद प्रकाश की उपस्थिति में सम्मानित किया गया।  उन्होंने आईएमएस अधिनियम (शिशु दुग्ध प्रतिस्थापन अधिनियम) और कठिन परिस्थितियों में भी स्तनपान को बढ़ावा देने पर बात की।

केजीएमयू की  डॉ माला कुमार द्वारा ह्यूमन मिल्क बैंक के सभी महत्वपूर्ण विषयों, इसके उपयोग, लाभ और इसे शुरू करने और चलाने में आने वाली चुनौतियों पर प्रकाश डाला गया।  स्तनपान पर वर्तमान रुझानों और वैश्विक अपडेट पर यूनिसेफ, लखनऊ की पोषक विशेषज्ञ डॉ ऋचा सिंह पांडे ने चर्चा की हैं। सत्र का समापन डॉ. नीतू सिंह द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ। इस कार्यक्रम में फैकल्टी, रेजिडेंट डॉक्टर्स और नर्सिंग स्टाफ ने हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixteen − 6 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.