Friday , July 19 2024

Tag Archives: किताबें

Doctor’s Day Special : साक्ष्य आधारित होम्योपैथी उपचार पर ज्यादा से ज्यादा पुस्तकों का प्रकाशन ही मेरा सपना

-शोध के प्रति जूनून की हद तक जाने वाले डॉ गिरीश गुप्ता से विशेष वार्ता धर्मेन्द्र सक्सेना लखनऊ। होम्योपैथी को प्‍लेसिबो थेरेपी, एक्‍वा थेरेपी और साइको थेरेपी बताकर सार्वजनिक रूप से उपहास उड़ाने वालों, विशेषकर केजीएमसी के नामचीन प्रोफेसर को अपनी रिसर्च से होम्योपैथी की वैज्ञानिकता साबित करके जवाब देने …

Read More »

डॉ अनिता भटनागर जैन की दो पुस्‍तकों के ब्रेल व ऑडियो संस्‍करण का विमोचन

-केंद्रीय मंत्री वीरेन्‍द्र सिंह ने की ‘दिल्ली की बुलबुल‘ और ‘कुछ करोगे क्या‘ की सराहना सेहत टाइम्‍स लखनऊ। दृष्टिबाधित दिव्‍यांग जनों के लिए पूर्व आईएएस अधिकारी व वर्तमान में नेशनल बुक ट्रस्‍ट, भारत सरकार की ट्रस्‍टी डॉ अनि‍ता भटनागर जैन की लिखी दो पुस्‍तकों ‘दिल्ली की बुलबुल’ और ‘कुछ करोगे …

Read More »

पुस्‍तकें हमारे मस्तिष्‍क का भोजन : डॉ अनीता भटनागर जैन

-गोमती पुस्‍तक मेले में अपने बच्‍चों की स्‍टोरी बुक ‘कुंभ’ को लेकर बच्‍चों से पूछे प्रश्‍न लखनऊ। पूर्व आईएएस अधिकारी व नेशनल बुक ट्रस्‍ट की ट्रस्‍टी डॉ अनीता भटनागर जैन ने पुस्‍तक पढ़ने के महत्‍व को बताते हुए कहा है कि किताबें हमारे विचारों और व्‍यक्तित्‍व को ढालती हैं, उन्‍होंने …

Read More »

जागरूकता बढ़ाने के लिए चिकित्‍सकों को किताबें भी लिखनी चाहिये

-केजीएमयू में यूपीएएसआईकॉन 2020 प्रारम्‍भ, वर्चुअल कार्यशाला में लिया 800 लोगों ने हिस्‍सा सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो लखनऊ। चिकित्सा सेवाओं को और बेहतर बनाने और आमजन में अधिक से अधिक जागरूकता बढ़ाने के लिए चिकित्सकों को किताबें लिखनी चाहिए तथा प्रयास यह हो कि किताबें हिन्दी में हो। इसका लाभ यह …

Read More »

चिकित्सा क्षेत्र की सबसे ज्यादा पुस्तकें लिखने का रिकॉर्ड

कुल 14 पुस्‍तकों में सात हिन्‍दी और सात अंग्रेजी भाषा में लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍व विद्यालय के पल्‍मोनरी विभाग के हेड प्रो सूर्यकांत चिकित्‍सीय क्षेत्र में रोग के उपचार के साथ ही स्‍वास्‍थ्‍य और चिकित्‍सा क्षेत्र में विभिन्‍न कार्यक्रमों तथा पुस्‍तकों के जरिये जागरूकता फैलाने के कार्य में लगे …

Read More »