लापरवाही की हद हो गई, अस्पताल में भर्ती बेहोश मरीज की आंख कुतर गए चूहे

मरीज के पिता ने लगाया आरोप अस्पताल प्रशासन का आरोप से इनकार इनकार

पिछले दिनों आगरा में चूहों के बिल बनाने और जमीन को खोखला करने के चलते बिल्डिंग गिरने का मामला सामने आया था। अब मुंबई के अस्पताल में डॉक्टरों की लापरवाही की शर्मनाक मामला सामने आया है। यहां निकाय की ओर से चल रहे बाल ठाकरे ट्रामा केयर हॉस्पिटल में एक मरीज की आंख को चूहे ने कुतर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह घटना 23 अप्रैल की है जब मरीज को आईसीयू से जनरल वार्ड में शिफ्ट किया गया । दरअसल अस्पताल की खस्ता हाल की वजह से यहां चूहे काफी ज्यादा हैं और इन चूहों ने बेहोश मरीज की आंख को कुतर दिया।

 

मरीज को दो दिन आईसीयू में रखने के बाद जनरल वार्ड में शिफ्ट किया गया था, जहां यह घटना हुई है। हालांकि अस्पताल ने इस घटना से इनकार किया है। अस्पताल प्रशासन का कहना है कि इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है। यह सिर्फ अस्पताल को बदनाम करने की साजिश है। लेकिन मरीज के पिता का कहना है कि हमने अपने बेटे की आंख में सुबह खून के निशान देखें। हमने इससे पहले वार्ड में काफी चूहे देखे थे, लेकिन चूहे को आंख कुतरते हुए नहीं देखा है। मैंने बेटे को सड़क हादसे के बाद अस्पताल में भर्ती कराया था, उसके सिर में खून का थक्का जम कया था।

 

सवाल यह भी उठता है कि अगर अस्पताल प्रशासन की बात सच मान ली जाए तो फिर आखिर मरीज की आंख में चोट कैसे लगी।