रेडिकल नर्व को जोड़कर फिर से मुड़ने लायक बना दी कलाई

कुछ जटिल ऑपरेशन करके केजीएमयू के प्लास्टिक सर्जरी विभाग ने मनाया स्थापना दिवस

लखनऊ‎। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के प्लास्टिक सर्जरी विभाग ने अपना 42 वां स्थापना दिवस शनिवार को मनाया। इस मौके पर चेन्नई से आए विशेषज्ञ एस आर एन इंस्टिट्यूट ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के डॉक्टर के श्रीधर ने डॉ आर एन शर्मा व्याख्यान दिया। इस व्याख्यान का विषय सर्जरी में थ्री डायमेंशन के साथ ही चौथा डायमेंशन का प्रयोग बताया, जिसके तहत मरीज के बारे में जानना उसके अंदर की बात समझना, उसकी पारवारिक, सामाजिक स्थिति को समझना के साथ सर्जरी करना बताया गया ।

स्थापना दिवस पर एक कार्यशाला का भी आयोजन किया गया जिसमें डॉक्टर के श्रीधर ने कुछ मरीजों के प्लास्टिक सर्जरी के जटिल ऑपरेशन किए गए। एक मरीज के हाथ में चोट लगने से रेडिकल नर्व कट गई थी जिसकी वजह से उसकी कलाई मुड़ नहीं रही थी। डॉक्टर के श्रीधर ने इस नर्व को जोड़कर कलाई को मुड़ने लायक बनाया । इसी प्रकार एक दूसरे मरीज की उंगलियां जन्मजात टेढ़ी थीं। ऑपरेशन करके उसकी उंगलियों को सीधा किया गया। इसके अतिरिक्त एक मरीज का कलाई के बाद हथेली मुड़ी हुई थी ऐसा मांसपेशियों में रक्त का बहाव कम होने से था इसे भी ऑपरेशन करा ठीक किया गया। उन्होंने छात्रों को महत्वपूर्ण बातें भी बताईं।

शनिवार को स्थापना दिवस समारोह के मौके पर कुलपति प्रोफ़ेसर एमएलबी भट्ट, अधिष्ठाता प्रोफ़ेसर मधुमति गोयल, रजिस्ट्रार राजेश राय वित्त अधिकारी जमा, प्लास्टिक सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर एके सिंह, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर एस एन संखवार, चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर विजय कुमार साहित्य कई अन्य फैकल्टी, रेजिडेंट एवं छात्र छात्राएं उपस्थित थे।