Monday , October 3 2022

छत्‍तीसगढ़ में आयुष्‍मान भारत योजना बंद करने की तैयारी!

राज्‍य में काबिज नयी कांग्रेस सरकार की इसके स्‍थान पर दूसरी योजना लाने की तैयारी

 

क्‍या प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की महत्‍वाकांक्षी आयुष्‍मान भारत योजना जिसकी शुरुआत छत्‍तीसगढ़ से हुई थी, छत्‍तीसगढ़ में ही बंद हो जायेगी? क्‍या छत्‍तीसगढ़ में आयुष्‍मान भारत योजना राजनीति का शिकार हो जायेगी? आ रही खबरों के अनुसार छत्‍तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार इस योजना को बंद करने की तैयारी में है। सरकार आयुष्मान योजना की जगह पर यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम शुरू करने की तैयारी में है। हालांकि मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल का कहना है कि अभी अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है लेकिन हां योजना की समीक्षा जरूर की जा रही है।दूसरी ओर पूर्व मुख्‍यमंत्री रमन सिंह ने सरकार से अपील की है कि जो भी निर्णय लें वह सोच-समझ कर लें।

 

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार आयुष्मान भारत योजना को बंद करने की सरकार की तैयारी पर पूर्व सीएम रमन सिंह ने सरकार को घेरा है। आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले की जांगला से आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत हुई थी।

 

रमन सिंह ने कहा है, ‘सरकार इस मसले पर सोच समझ कर निर्णय ले. इस योजना से गरीबों को बड़ा फायदा हो रहा है. जल्दीबाजी में सरकार को निर्णय नहीं लेना चाहिए.” वहीं आयुष्मान योजना बंद करने की तैयारी पर भाजपा के निशाने पर आई सरकार की तरफ से बचाव के लिए खुद मुख्‍यमंत्री आगे आये हैं. सीएम भूपेश बघेल ने कहा है कि स्वास्थ्य मंत्री इसका परीक्षण कर रहे हैं और इस संबंध में अभी चर्चा होगी।”

 

डॉ राकेश गुप्ता

दूसरी ओर आयुष्मान योजना को बंद करने की सरकार की तैयारी पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के सदस्य और हॉस्पिटल बोर्ड के अध्यक्ष डॉक्टर राकेश गुप्ता ने ‘सेहत टाइम्‍स’ से कहा कि, “आयुष्मान योजना का टैरिफ ऐसा है कि इससे डॉक्टर सर्वाइव नहीं कर पा रहे हैं। उन्‍होंने कहा है कि इसीलिए इसका हमलोगों ने विरोध किया था। इसके सॉफ्टवेयर में भी बहुत गड़बड़ी है. छत्तीसगढ़ में यह कहीं सक्सेज भी नहीं हो पाया। इसीलिए डॉक्टर भी नई योजना का इंतजार कर रहे हैं।”