Friday , October 22 2021

नयी-नयी जानकारियां लेकर लगने जा रहा है प्‍लास्टिक सर्जनों का जमावड़ा

दुर्लभ और चुनौती भरी सर्जरीज के बारे में बताया जायेगा ऐप्‍सीकॉन 2018 में

 

लखनऊ। देश भर के प्‍लास्टिक सर्जनों का जमावड़ा लखनऊ में लगने जा रहा है। इनके अलावा प्‍लास्टिक सर्जरी के एक्‍सपर्ट विदेशों से भी आ रहे हैं जो नये-नये अनुभवों और उपलब्धियों से सम्‍मेलन में अवगत करायेंगे। आपको बता दें कि एसोसिएशन ऑफ प्लास्टिक सर्जन्‍स ऑफ इंडिया का 53वां वार्षिक समारोह ऐप्‍सीकॉन-2018 21 से 25 नवम्‍बर तक आयोजित किया जा रहा है। इस बार की कॉफ्रेंस की थीम है Innovate to Excel, Research to Lead, Propagate to Prosper !

 

यह जानकारी आज यहां प्रेस क्‍लब में आयोजित एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में देते हुए आयोजन समि‍ति सदस्‍यों डॉ वैभव खन्‍ना, डॉ आदर्श कुमार, डॉ राजकुमार मिश्र तथा डॉ अंकुर भटनागर ने दी। डॉ सुरजीत भट्टाचार्य के नेतृत्‍व में होने वाले इस आयोजन के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि कॉन्‍फ्रेंस में देश भर के करीब 800 सर्जन भाग लेंगे तथा यूके, यूएस, ऑस्‍ट्रेलिया आदि जगहों से विशेषज्ञ भी भाग लेने आयेंगे। समारोह के मुख्‍य अतिथि प्‍लास्टिक सर्जरी के पुरोधा प्रो आरपी साही होंगे।

 

आयोजकों ने बताया कि 21 तारीख को वीडियो वर्कशॉप होगा। इस वीडियो वर्कशॉप की विशेषता यह है कि करीब 70 से 80 वीडियो के माध्‍यम में पूर्व की गयीं विशेष सर्जरी को दिखाया जायेगा। यही नहीं इस वीडियो को दिखाते समय जिस सर्जन द्वारा वीडियो में सर्जरी की गयी है वह भी वहीं मौजूद रहेंगे जिससे कि प्रतिभागी सर्जरी के विषय में कुछ जानना चाहें तो वह उनसे पूछ सकते हैं। इसके अगले दिन 22 नवम्‍बर को सीएमई (सतत चिकित्‍सा शिक्षा) का आयोजन किया गया है जिसमें एक्‍सपर्ट प्रतिभागियों को प्‍लास्टिक सर्जरी के क्षेत्र में हुए नये आयामों के बारे में जानकारी देंगे। इसके बाद 23 से 25 नवम्‍बर तक प्‍लास्टिक सर्जनों द्वारा विभिन्‍न पेपरों की प्रस्‍तुति की जायेगी।

 

25 तारीख की शाम को ही सहारा शहर में एक क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया है। जिसमें सर्जरी के उपकरण पकड़ने वाले हाथ बल्‍ले और गेंद के साथ अपने जौहर दिखायेंगे। इस कॉन्‍फ्रेंस में जिन नयी चीजों के बारे में जानकारी दी जायेगी उनमें एक है 3 डी प्रिंटिंग, इसमें व्‍यक्ति के अंग की जांच की थ्री डी प्रिंटिंग टेक्‍नोलॉजी के बारे में बताया जायेगा, आपको बता दें कि जांच रिपोर्ट की थ्रीडी प्रिंटिंग से सर्जरी की प्‍लानिंग बेहतर तरीके से की जा सकती है। थ्री डी के अलाव माइक्रो सर्जरी, टिशू इंजरी, ट्रांसप्‍लांट तथा नयी टेक्‍नोलॉजी वाले कृत्रिम अंगों के बारे में जानकारी दी जायेगी।

 

एक और रोमांचक और अनूठी सर्जरी को अंजाम देने वाले सर्जन भी कॉन्‍फ्रेंस में हिस्‍सा ले रहे हैं, दिल्‍ली एम्‍स के सर्जन द्वारा पिछले दिनों सिर से जुड़े हुए उड़ीसा के दो बच्‍चों की सर्जरी करने वाली टीम में शामिल प्‍लास्टिक सर्जन रोमांच से भरी सर्जरी के बारे में विस्‍तार से जानकारी देंगे। इसी प्रकार माइक्रोसर्जरी की कार्यशाला में मानव प्‍लेसेन्‍टा पर कप्‍लर के जरिये माइक्रोवस्‍कुलर सर्जरी पर हैन्‍ड्स ऑन वर्कशॉप का आयोजन किया जायेगा।