Saturday , June 15 2024

जीवन शैली में करें छोटे-छोटे बदलाव, होगा हाई ब्लड प्रेशर से बचाव

-विश्व उच्च रक्तचाप दिवस के मौके पर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में ब्लड प्रेशर पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

सेहत टाइम्स

लखनऊ। डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, लखनऊ के निदेशक डॉ सी एम सिंह ने सभी को ब्लड प्रेशर की जांच का महत्व बताते हुए कहा कि जीवन शैली में कुछ छोटे-छोटे बदलाव करके हम सभी इस गंभीर समस्या से बच सकते हैं।

निदेशक ने यह जानकारी आज 17 मई को विश्व उच्च रक्तचाप दिवस के मौके पर संस्थान में डिपार्टमेंट ऑफ़ कम्युनिटी मेडिसिन, डिपार्टमेंट ऑफ़ कार्डियोवैस्कुलर एवम थोरेसिक सर्जरी और डिपार्टमेंट ऑफ़ कार्डियोलॉजी के संयुक्त प्रयासों से ब्लड प्रेशर से बचाव और नियंत्रण के महत्व पर आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में दी। उन्होंने सभी को प्रतिदिन 30-40 मिनट तेज तेज टहलने( ब्रिस्क वाक ), जंक फ़ूड से स्वयं बचने और अपने बच्चों को बचाने, कम नमक का सेवन करने, और मोटापे को नियंत्रित करने की सलाह दी।

नमक के नापजोख में न पड़ें, बस इतना करें

नमक के विषय में डॉ सिंह ने कहा कि जैसा कि कहा जाता है कि नमक दिन भर में पांच ग्राम (एक छोटी चम्मच ) खाना चाहिए, इस विषय में मैं कहना चाहता हूं कि इसके नापजोख को लेकर इतना सोचने की जरूरत नहीं है, सीधे शब्दों में यह समझिये कि जितना दाल, सब्जी आदि में पड़ा है वही खाइये, अलग से न डालें, सलाद में भी बहुत से लोग नमक डाल लेते हैं, ऐसा न करें सलाद बिना नमक का ही खाएं। उन्होंने सभी को बताया कि किस प्रकार से यह बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर व्यक्ति के महत्वपूर्ण अंगों जैसे कि दिल, दिमाग, किडनी और अन्य अंगों को नुकसान पहुंचाता है I उन्होंने सभी को बताया कि किस प्रकार से यह बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर व्यक्ति के महत्वपूर्ण अंगों जैसे कि दिल, दिमाग, किडनी और अन्य अंगों को नुकसान पहुंचाता है I

निदेशक ने किया कार्डियोलॉजिस्ट के सुझाव पर अमल, सबके सामने करायी ब्लड प्रेशर की जांच

संस्थान के कार्डियोलॉजी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ भुवन चन्द्र तिवारी ने सभी को ब्लड प्रेशर की जाँच अवश्य कराने का सुझाव दिया और ब्लड प्रेशर बढ़ा होने पर नियमित दवाई का सेवन करने और डॉक्टर की सलाह को अवश्य मानने का सुझाव दिया I डॉ भुवन के इस सुझाव पर अमल करते हुए निदेशक डॉ सिंह ने कार्यक्रम के अंत में सभी के सामने डॉ भुवन तिवारी से अपना ब्लड प्रेशर चेक करवाकर सभी को इसके लिए प्रेरित किया। परिणामस्वरूप कार्यक्रम के उपरांत सभागार में उपस्थित 200 से अधिक व्यक्तियों की ब्लड प्रेशर की जाँच की गई।

कम्युनिटी मेडिसिन के विभागाध्यक्ष डॉ सुनील दत्त कांडपाल के द्वारा ब्लड प्रेशर के नियंत्रण के लिए शारीरिक हेल्थ के साथ मानसिक स्वास्थ्य की उपयोगिता पर चर्चा की गई और उन्होंने सभी को योग एवं मैडिटेशन को अपनी जीवन शैली में सम्मिलित करने का सुझाव दिया।

कार्यक्रम में डॉक्टर अरविन्द कुमार सिंह, डॉ अमित कौशिक, डॉ सुमित दीक्षित , डॉ विनीता शुक्ला,, डॉ बीना सचान, डॉ रश्मि कुमारी , डॉ सारा उस्मानी, डॉ मुदित, डॉ अक्षयता , डॉ प्रदीप , डॉ शुभम्, डॉ हुदा , डॉ जटाशंकर , डॉक्टर मैरी, मीना जौहरी, निमिशा सोनकर, अभिषेक पांडेय एवं एमबीबीएस के विद्यार्थी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.