Saturday , February 4 2023

अस्‍पताल के 116 कार्मिकों के आखिरी बैच को लोहिया संस्‍थान ने किया बाय-बाय

-विलय के बाद से अस्‍पताल कर्मी संस्‍थान में प्रतिनियुक्ति पर थे तैनात

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। कभी डॉ राम मनोहर लोहिया संयुक्‍त चिकित्‍सालय में तैनात कर्मियों के अंतिम 116 कार्मिकों के बैच को नवम्‍बर की अंतिम तारीख पर संस्‍थान से टाटा-बाय बाय कर दिया गया। इन कार्मिकों में 64 उपचारिकाएं, 12 सिस्‍टर, 1 ईसीजी टेक्‍नीशियन, 3 फीजियोथेरेपिस्‍ट, 8 एक्‍स रे टेक्‍नीशियंस, 2 वरिष्‍ठ लैब टेक्नीशियंस, 14 लैब टेक्‍नीशियंस, एक चीफ फार्मासिस्‍ट और 11 फार्मासिस्‍ट शामिल हैं। अब इन सभी कार्मिकों की तैनाती स्‍वास्‍थ्‍य विभाग द्वारा अन्‍य अस्‍पतालों में की जायेगी।

दरअसल नियमों के तहत जब से प्रदेश के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अंतर्गत आने वाले अस्‍पताल डॉ राम मनोहर लोहिया संयुक्‍त चि۫कित्‍सालय का चि۫कित्‍सा शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्‍थान में विलय हुआ था, उसके बाद से ही अस्‍पताल वाले कर्मचारियों को संस्‍थान ने प्रतिनियुक्ति पर रखा हुआ था। संस्‍थान द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार प्रतिनियुक्ति में चूंकि अधिकतम तीन साल रखा जा सकता है इसलिए इस अवधि के पूरा होने के बाद कार्मिकों को उनके मूल विभाग में भेज दिया जाता है। इसी क्रम में आज आखिरी बैच की वापसी की गयी है।  

मीडिया सेल की ओर से 30 नवम्‍बर को जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश सरकार के चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधीनस्थ डॉ राम मनोहर लोहिया संस्थान ने वर्तमान के हॉस्पिटल ब्लॉक (विलय से पूर्व, बगल में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित डॉ० राम मनोहर लोहिया संयुक्त चिकित्सालय) में पूर्व से स्वास्थ्य विभाग के प्रतिनियुक्ति पर तैनात 116 कार्मिकों के अंतिम बैच को आज भावभीनी विदाई दी। संस्थान प्रशासन ने उनकी सेवाओं के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना कर उन्हें शुभकामनाएं दीं।

संस्‍थान के मीडिया सेल द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि यह स्पष्ट किया जाना आवश्यक है कि विलय के बाद शासकीय नियमानुसार चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग के अधीनस्थ कार्मिकों की यहां पर प्रतिनियुक्ति की 3 वर्ष की अवधि समाप्त होने पर, पुनः अपने मूल विभाग में जाकर रिपोर्ट करना आवश्यक हो जाता है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि इसके पूर्व में भी जिन जिन कार्मिकों की अवधि समाप्त होती गई है, वे वापस यहां (लोहिया संस्थान) से पुनः अपने मूल चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में जाते रहे हैं।

30 नवम्‍बर को कार्यमुक्‍त किये जाने वाले 116 कर्मियों की जो सूची के साथ जारी कार्यालय आदेश में कहा गया है कि सूची में शामिल 64 उपचारिकाओं में एक उपचारिका के मातृत्‍व अवकाश पर होने के कारण उनकी औपचारिक रिलीविंग अवकाश से वापस लौटने पर फरवरी, 2023 में की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighteen + 13 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.