Monday , November 28 2022

शहीद फार्मासिस्‍टों के कार्य के प्रति समर्पण को हमेशा याद रखेगी फेडरेशन

-कोरोना काल में शहीद फार्मासिस्‍टों को विश्‍व फार्मासिस्‍ट दिवस पर किया गया याद

-एम्‍स के डॉ हरलोकेश को किया गया फार्मेसी रत्‍न 2021 से सम्‍मानित

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। कोरोना काल में मरीजों की सेवा देते हुए, शहीद हुए फार्मासिस्टों की याद कर इस वर्ष का विश्‍व फार्मासिस्ट दिवस मनाया गया। सिविल अस्पताल में शहीदों के कार्यों के प्रति समर्पण की चर्चा करते हुए फार्मासिस्ट संघ के अध्यक्ष सुनील यादव और वरिष्ठ फार्मासिस्ट अजय कश्यप ने, कहा कि दिवंगत फार्मासिस्टों की सेवाओं को फार्मासिस्‍ट फेडरेशन कभी नहीं भूलेगा,  फेडरेशन उनकी सेवाओं को प्रेरणा स्वरूप हर वर्ष याद कर, उनके परिवार को संबल प्रदान करेगा।

आज लखनऊ के सिविल चिकित्सालय में फार्मेसिस्ट फेडरेशन के तत्वावधान में शहीद फार्मेसिस्टों को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई और रंगोली प्रतियोगिता तथा पोस्टर प्रेजेंटेशन के माध्यम से फार्मेसिस्टों के महत्व को दर्शाया गया कार्यक्रम में चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर एस के नंदा, अधीक्षक डॉ एस आर सिंह , प्रभारी अधिकारी फार्मेसी एच एन चौधरी, चिकित्सालय के सभी चीफ फार्मासिस्‍ट, फार्मासिस्‍ट तथा इंटर्न फार्मासिस्‍ट के साथ ही वेटनरी फार्मासिस्ट अशोक कुमार समेत सिविल अस्पताल के दर्जनों फार्मासिस्ट मजूद रहे।

एक अन्‍य कार्यक्रम में बलरामपुर चिकित्सालय के इमरजेंसी सभागार में एक साइंटिफिक सेमिनार का आयोजन भी किया गया जिसमें एम्स नई दिल्ली के एडिशनल प्रोफेसर डॉ हरलोकेश नारायण यादव को फार्मेसी रत्न 2021 से सम्मानित किया गया। सेमिनार में डॉ हरलोकेश द्वारा ह्रदय रोगों के बारे में बचाव उपचार की वैज्ञानिक व्याख्या की गई। डॉ आनंद गुप्ता, डॉ शगुफ्ता सिद्दीकी, डॉ के एन उस्मानी द्वारा वैज्ञानिक भाषण दिया गया। कोविड-19 पर विस्तृत व्याख्यान भी प्रस्तुत किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डिप्लोमा फार्मासिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप बडोला तथा संचालन सुभाष श्रीवास्तव ने किया। कार्यक्रम में इंटर्न फार्मेसिस्टों के द्वारा नाटक का मंचन भी किया गया इसके द्वारा आम जनता को सलाह दी गई थी वह किसी झोलाछाप डॉक्टर से औषधियां न लें और पंजीकृत फार्मासिस्‍ट की सलाह से ही दवाएं लें और फार्मेसिस्ट से काउन्सलिंग जरूर कराएं।  कार्यक्रम में जनपद अध्यक्ष सुशील त्रिपाठी, विनोद सोनी, निदेशालय मिनिस्ट्रियल संघ के अध्यक्ष संजय रावत व अन्य संघों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nine + seven =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.