छह मेडिकल कॉलेजों और जेके कैंसर संस्‍थान में ई-हॉस्पिटल सिस्टम की शुरुआत

बहुपयोगी ई-हास्पिटल इंफारमेशन सिस्टम का शुभारम्भ

विभागीय वेबसाइट की भी शुरुआत की चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री ने

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश की जनता को तनावरहित एवं सुगम चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराये जाने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा रोगियों की चिकित्सा प्रक्रिया को आधुनिकतम कलेवर प्रदान करते हुए बहुपयोगी ई-हास्पिटल इंफारमेशन सिस्टम का शुभारम्भ तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग की नवीन विभागीय वेबसाइट की शुरुआत चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ‘गोपाल जी‘ ने आज योजना भवन के सभागार में की।

 

इस अवसर पर टण्डन ने कहा कि प्रदेश के सरकारी मेडिकल कालेजों में प्रथम बार रोगियों की सुविधा हेतु ई-हास्पिटल इंफारमेशन सिस्टम की शुरुआत की जा रही है, जिसके अतंर्गत प्रथम चरण में वर्ष 2005 के पूर्व से स्थापित 6 राजकीय मेडिकल कालेजों यथा कानपुर, आगरा, झांसी, मेरठ, गोरखपुर एवं इलाहाबाद तथा जनपद कानपुर में स्थापित जेके कैंसर संस्थान तथा हृदय रोग संस्थान में इसे लागू किया जाएगा। इस बहुपयोगी योजना को एनआईसी के सहयोग से प्रारम्भ किया जा रहा है। वस्तुतः ई-हास्पिटल इंफारमेशन सिस्टम एक वेव आधारित पोर्टल है, जिसके माध्यम से रोगियों को  20 से अधिक मॉड्यूल जो कि रोगी पंजीकरण, ओपीडी, आईपीडी, वार्ड, आईसीयू, ओटी प्रबंधन, फार्मेसी, प्रशासनिक प्रबंधन इत्यादि की सुविधा प्राप्त होती है।

 

चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा कि रोगियों को उनके पंजीकरण के समय ही एक यूआईडी नम्बर प्रदान किया जाएगा, जिसके आधार पर रोगियों को औषधियां, जांच रिपोर्ट, चिकित्सकीय परामर्श, चिकित्सीय संदर्भ इत्यादि की जानकारी तत्काल प्राप्त हो सकेगी। यही नहीं इस यूआईडी नम्बर के आधार पर ही जटिल रोगों से ग्रसित मरीज के प्रकरण में चिकित्सकों द्वारा मरीज की ऑनलाइन केस हिस्ट्री का परीक्षण करते हुए उचित परामर्श दिया जाना भी सम्भव हो सकेगा।

 

चिकित्सा शिक्षा विभाग की नवीन विभागीय वेबसाइट लांच करते हुए चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा कि वर्तमान में संचालित वेबसाइटों में विभाग की समस्त योजनाएं, सूचनाएं एवं निर्णयों संबंधी जानकारियां समाहित न होने से आम जनता को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। हमारी सरकार द्वारा समस्त विभागीय जानकारियों एवं शासन द्वारा समय-समय पर जनकल्याण में लिए गए निर्णयों, कल्याणकारी योजनाओं से आम जनमानस तथा चिकित्सा/पैरामेडिकल पाठ्यक्रमों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को अवगत कराये जाने के उद्देश्य से नवीन विभागीय वेबसाइट का उद्घाटन किया जा रहा है।

 

प्रमुख सचिव, चिकित्सा शिक्षा डॉ रजनीश दुबे ने बताया कि यह योजना इस आधार पर भी अत्यंत महत्वपूर्ण है कि पोर्टल के माध्यम से शोधकर्ताओं को नवीन बीमारियों, उनके इलाज की सुगम पद्धति एवं औषधियों के विषय में विशुद्ध आंकड़े प्राप्त हो सकेंगे, जो भविष्य में जटिल रोगों के निदान की नवीनतम तकनीक विकसित करने में सहायक सिद्ध होंगे तथा इसका लाभ जनमानस को भी यथासमय प्राप्त हो सकेगा।

 

इस अवसर पर महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण प्रो केके गुप्ता तथा उत्तर प्रदेश चिकित्सा शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी एवं राजकीय मेडिकल कालेजों के प्रधानाचार्य उपस्थित थे।