Sunday , July 21 2024

तनाव से निपटने के तरीके बताये डॉ श्रीराम नेने ने

-बॉलीवुड अदाकारा माधुरी दीक्षित के पति हैं कार्डियोथोरेसिक सर्जन डॉ नेने

photo courtesy: bollywoodfiles

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। आजकल की भागमभाग जिन्‍दगी में तनाव का लेवल कुछ ज्‍यादा ही बढ़ गया है। बच्‍चों से लेकर बड़ों तक को किसी न किसी चीज का तनाव है। इस तनाव को कैसे अपने से दूर रखें, इसके बार में कार्डियोथोरेसिक सर्जन डॉ श्रीराम नेने, जो बॉलीवुड अदाकारा माधुरी दीक्षित के पति हैं, ने इस तनाव से निपटने के 7 अचूक तरीके बताए हैं. उनका कहना है कि इन तरीकों को अपनाने से तनाव में कमी आती है और मन शांत होने लगता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार डॉ. श्रीराम नेने ने इन तरीकों के बारे में विस्‍तार ने बताया।

1. नींद पूरी, बहुत जरूरी


डॉ. श्रीराम नेने ने बताया कि तनाव से बचने के लिए वयस्कों को कम से कम 7-9 घंटे और बच्चों को कम से कम 10 घंटे की नींद जरूर मिलनी चाहिए। उनका कहना है कि नींद दिमाग को रिफ्रेश रखने में मदद करती है।

2. व्‍यायाम करें

डॉ नेने का कहना है कि व्‍यायाम करने से शरीर के साथ दिमाग भी बेहतर रहता है, जिससे तनाव कम करने वाले हॉर्मोन का उत्पादन बढ़ जाता है। उनका कहना है कि रोजाना कम से कम आधा घंटा एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए।

3. सपोर्ट सिस्टम

डॉ. श्रीराम नेने का कहना है कि तनाव मिटाने के लिए सपोर्ट सिस्टम का होना बहुत जरूरी है, जो आपको मूवऑन करने और कड़वी यादें भूलने में मदद करेगा। इस सपोर्ट सिस्टम से अपने मन की बातें जरूर शेयर करनी चाहिये।

4. कार्य की प्राथमिकता तय करें

चौथे टिप्‍स के बारे में डॉ नेने का कहना है कि तनाव से निपटने के लिए प्राथमिकता जरूर तय करें, ऐसा करने से कम चीजों को लेकर आप गंभीर या परेशान होंगे। यह स्ट्रेस मैनेजमेंट का जरूरी हिस्सा है।

5. पॉजिटिव रहना आवश्‍यक

उनका कहना है कि किसी भी बुरे समय से निकलने के लिए सबसे पहले अपनी सोच को हथियार बनाना होता है। उनका कहना है कि आप यह सोचें कि बुरा वक्त निकल जाएगा और इससे आपको बेहतर होने का मौका मिलेगा।

6. ब्रीदिंग एक्सरसाइज

डॉ नेने का कहना है कि मन और दिमाग को शांत करने के लिए शरीर में ऑक्सीजन और सामान्य धड़कन जरूरी होती है। इसके लिए गहरी और धीमी सांस लेनी चाहिये।

7. प्रोफेशनल मदद लें

सातवां टिप्‍स डॉ. श्रीराम नेने बताते हैं कि अगर आपकी कोशिश से समस्‍या हल नहीं हो रही है और तनाव बरकरार है तो इसे गंभीरता से लेते हुए किसी विशेषज्ञ से अवश्‍य सलाह लेनी चाहिये। विशेषज्ञ द्वारा दवाओं और थेरेपी से इलाज दिया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.