Saturday , October 16 2021

लाल बहादुर शास्‍त्री की मौत के रहस्‍य को सार्वजनिक करने की मांग

-विवेकानंद की लखनऊ में प्रतिमा लगाने की भी मांग उठायी कायस्‍थ फाउंडेशन ट्रस्‍ट ने

-झूलेलाल वाटिका स्थित भगवान श्री चित्रगुप्‍त धाम की वेबसाइट की लॉन्चिंग हुई

-लखनऊ में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने की वेबसाइट की लॉन्चिंग

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। कायस्‍थ फाउंडेशन ट्रस्‍ट ने लखनऊ में स्‍वामी विवेकानंद की 150 फीट ऊंची प्रतिमा लगाने और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्‍त्री की मृत्‍यु के रहस्‍य को सार्वजनिक करने की मांग की है। झूलेलाल वाटिका स्थित भगवान श्री चित्रगुप्‍त धाम की वेबसाइट की लॉन्चिंग के मौके पर कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह के समक्ष ये मांगें रखते हुए इससे सम्‍बन्धित मुख्‍यमंत्री को सम्‍बोधित पत्र सौंपा गया।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने आज आज मकर संक्रांति के पावन पर्व पर भगवान श्री चित्रगुप्त धाम झूलेलाल वाटिका लखनऊ की वेबसाइट www.chitragupta.dham का उदघाटन खादी भवन डालीबाग में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने किया।

यह जानकारी देते हुए भाजपा प्रवक्‍ता तथा संस्थापक सदस्य कायस्थ फाउंडेशन ट्र्स्ट दिलीप श्रीवास्तव ने बताया कि भगवान श्री चित्रगुप्त धाम की वेबसाइट  www.chitragutadham.in जिसमे मंदिर से जुड़ी समस्त जानकारी है। ऋग्वेद, पुराण जहाँ  भगवान श्री चित्रगुप्त जी का वर्णन है, उन मंत्रों,कायस्थ महापुरुषों का भी उल्लेख है। कायस्थ फाउंडेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित उक्त वेबसाइट के द्वारा सदस्यता भी ली जा सकती है।

कायस्थ फाउंडेशन ट्रस्ट ने सिध्दार्थ नाथ सिंह से लखनऊ में स्वामी विवेकानंद की 150 फ़ीट से ज्यादा ऊंची विशालकाय मूर्ति लगवाने, देश के द्वितीय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की मृत्यु का रहस्य सार्वजनिक करने की मांग भी की। महामंत्री मनोज डींगर ने बताया कि इस सम्‍बन्‍ध में श्री सिंह को मुख्यमंत्री को संबोधित पत्र भी सौंपा।

इस मौके पर उन्होंने कायस्थ फाउंडेशन ट्रस्ट के पदाधिकारियों को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने इस वेबसाइट में भगवान श्री चित्रगुप्त जी से जुड़े मंत्रों, पूजा पद्धति, महापुरुषों के संकलन की सराहना की।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपाध्यक्ष कीर्ति चौधरी, विवेक श्रीवास्तव, कोषाध्यक्ष अरविंद श्रीवास्तव, निशीथ श्रीवास्तव, अमित श्रीवास्तव, योगेंद्र नाथ श्रीवास्तव एडवोकेट, आशीष श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com