भोजन, पानी और व्यायाम की तरह जरूरी है स्वच्छता

 

गाँधी जयंती पर केजीएमयू में आयोजित हुए कई कार्यक्रम

 

लखनऊ. केजीएमयू के कुलपति प्रो. एमएलबी भट्ट ने कहा है कि स्वच्छता व्यक्ति के जीवन के उतना ही आवश्यक है जितना कि शुद्ध भोजन, शुद्ध पानी और व्यायाम। उन्होंने कहा कि स्वच्छता से विभिन्न बीमारियां दूर रहती है और इससे समाज में सुन्दरता भी बनी रहती है.

 

कुलपति आज गाँधी जयंती पर केजीएमयू में आयोजित समारोह में बोल रहे थे. कुलपति ने कहा कि जिस प्रकार गांधी जी द्वारा हमेशा समाज के आखिरी पायदान पर खड़े व्यक्ति के बारे में सोचा जाता था उसी प्रकार हमे भी समाज के उन सबसे पिछड़े एवं गरीब से गरीब व्यक्ति को उत्कृष्ट सेवा प्रदान करने के बारे में कुछ करना होगा तभी जाकर हम गांधीजी के सपनों का भारत बना सकते हैं. हमें आपने आसपड़ोस अपने समाज को स्वच्छ रखना होगा तथा हम सभी को स्वच्छता की शपथ लेनी होगी.

 

गांधी जयंती पर चिकित्सा विश्वविद्यालय के विभिन्न वार्डो में भर्ती मरीजो के लिए फल वितरण भी किया गया। उपरोक्त कार्यक्रम के अलावा आज चिकित्सा विश्वविद्यालय द्वारा एक चिकित्सा शिविर का आयोजन ग्राम-मिश्रपुर, नजदीक बीपीसीएल प्लांट, कुर्सी रोड लखनऊ पर पूर्वाह्न 9 बजे से अपराह्न 2 बजे तक किया जा रहा है.

 

गांधी जंयती पर आज  चिकित्सा विश्वविद्यालय के परिसर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया. इस अवसर  पर कुलपति प्रो मदन लाल ब्रह्म भट्ट एवं संस्थान के विभिन्न प्रशासनिक  अधिकारियों द्वारा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक कार्यालय स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया तथा विश्वविद्यालय परिसर में आज सम्पन्न हुए सफाई कार्य में श्रमदान भी किया गया.

 

इस अवसर पर कुलपति के साथ चिकित्सा विश्वविद्यालय के सीएमएस प्रो0 एसएन संखवार, एमएस प्रो विजय कुमार, अधिष्ठाता चिकित्सा संकाय प्रो विनीता दास, प्रो एसके दास, प्रो नर सिंह वर्मा,  प्रो. विनोद जैन, अधिष्ठाता पैरामेडिकल संकाय, प्रो संदीप तिवारी, प्रो एचएस मल्होत्रा,  उप चिकित्सा अधीक्षक प्रो जीपी सिंह, प्रो एसपी जैसवार, प्रो हैदर अब्बास प्रो वेद प्रकाश सहित अन्य लोग उपस्थित रहे. कार्यक्रम में उपस्थित सदस्यों के साथ कुलपति द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया.